गांव से गांव जुड़ेंगे,विकास की खुलेंगी राह- झाली जी का बराना में 28.77करोड़ लागत के उच्च स्तरीय पुल का लोकार्पण

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- जिले के केशवरायपाटन क्षेत्र में झालीजी का बराना गांव में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनान्तर्गत मेज नदी पर 28.77 करोङ की लागत से बने उच्च स्तरीय पुल को लोकसभा अध्यक्ष श्री ओम बिरला ने जनता को समर्पित कर क्षेत्र के लोगो को बङी सौगात दी।

इस अवसर पर ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि नदी आने पर आवागमन के सारे रास्ते बंद हो जाते है। एक गांव दूसरे गांव से कट जाते थे। इस परेशानी को देखते हुए क्षेत्र की बरसों पुरानी समस्या का समाधान कर ग्रामीणों को सपना पूरा हुआ है। उन्होंने कहा कि 28.77 करोड़ रूपए की लागत से बना यह पुल दूर दराज के गांवों को जोडने का भी काम करेगा। आवागमन के रास्ते भी सुगम करेंगे।
उन्होंने कहा कि आवागमन की सुविधा से व्यापार बढता है। किसान को एक से दूसरी जगह माल ले जाने में सुविधा होती है। व्यापार मे सुविधा हेाती है। गांव के इन्फास्ट्रक्चर को सुदृढ करना होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में चिकित्सा व्यवस्था को मजबूत करने की महती आवश्यकता है। साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे संस्कार के लिए अच्छे विद्यालय होने चाहिए। कार्यक्रम में केशोरायपाटन विधायक चंद्रकांता मेघवाल क्षेत्र के अन्य जनप्रतिनिधि तथा अधिकारी मौजूद रहे

कोरोनाकाल में जान गंवाने वालों के परिजनों को दी सांत्वना
लोकसभा अध्यक्ष श्री ओम बिरला ने शनिवार को केशोरायपाटन क्षेत्र में कोरोना महामारी में जान गवाने वाले लोगों के परिवारों के बीच पहुंचकर परिजनों का दुख दर्द बांटा।
उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में कई परिवारों के लोग हमारे बीच नहीं रहे। गांवों में भी संक्रमण का असर रहा। इसके कारण कई गांव के अंदर संक्रमण का असर रहा। जिसके कारण कई गांवों के परिवार नहीं रहे। गांवांे में मृतकों के परिवार से मिलकर उनके दुख दर्द दूर करने के लिए समाज व सरकार प्रयास करेगी। इसके लिए लंबी कार्य योजना बनाएंगे, ताकि उनको रोजगार के अवसर उपलब्ध करा सकें। उनके बेेटे बेटियों की निशुल्क शिक्षा की व्यवस्था हो सके। तथा जो बेटियां शादी लायक है उनकी शादियां समाज मिलकर करेगा। यही हमारे संस्कार होते है और जनप्रतिनिधि होने के नाते हमारा दायित्व है।
श्री बिरला ने शनिवार को केशवरायपाटन क्षेत्र के विभिन्न गांवांे में तीन दर्जन परिवारों में कोरोना से मृतक लोगों के परिजनों के बीच पहुंचकर उनका दुख दर्द बांटा और मदद का भरोसा दिलाया। इस दौरान केशवरायपाटन विधायक चन्द्रकांता मेघवाल, केशवरायपाटन प्रधान वीरेन्द्र सिंह हाडा, राजकुमार बागला, मदनलाल मीना, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता, जनप्रतिनिधिगण मौजूद रहे।