कलक्टर पहुंचे निराश्रित बालकों के बीच आवास, भोजन, शिक्षा इत्यादि व्यवस्थाओं की ली जानकारी

बून्दी KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>> जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता ने शनिवार को बूंदी में संचालित टैगोर निराश्रित बाल गृह तथा टैगोर खुला आश्रय गृह का निरीक्षण किया। यहां जिला कलेक्टर ने सभी व्यवस्थाएं देखी तथा आवासी बालकों से बातचीत की। जिला कलक्टर ने इन बच्चों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि खूब पढ़ो और आगे बढ़ो।
जिला कलेक्टर ने दोनों स्थानों पर आवास कक्ष, भोजन कक्ष आदि का निरीक्षण किया। बच्चों से भोजन एवं अन्य गतिविधियों के बारे में जानकारी ली। जिला कलेक्टर ने यहां रहने वाले बच्चों की शिक्षा व्यवस्था के बारे में जानकारी ली जिस पर संचालक दीपक ओझा ने बताया कि खुला आश्रय स्थल के बच्चे खोजा गेट विद्यालय में अध्ययनरत हैं जबकि टैगोर निराश्रित बाल गृह बच्चों की शिक्षण व्यवस्था रघुनाथ एकेडमी में की गई है।
जिला कलेक्टर ने शिक्षणेत्तर गतिविधियों के बारे में जानकारी ली जिस पर बताया गया कि खाली समय में व्यायाम और बैडमिंटन इत्यादि खेलों की व्यवस्था की गई है। मनोरंजन के लिए म्यूजिक सिस्टम पर डांस वगैरह गतिविधियां भी की जाती हैं।
संचालक डॉ दीपक ओझा ने प्रतिभावान बच्चों की जानकारी दी और बताया कि कुछ बच्चे बहुत अच्छी चित्रकारी एवं आर्टवर्क करते हैं। उन्होंने बच्चों के बनाए चित्र भी दिखाए जिनकी जिला कलेक्टर ने सराहना की। इस अवसर बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक हुकम चन्द जाजोरिया भी मौजूद रहे।