जन जीवन सामान्य करने के लिये दिन रात हो रहा है, राहत कार्य

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>> अतिवृष्टि के कारण जिले की ग्राम पंचायतों में प्रभावित गॉमीणों के जन जीवन को सामान्य करने की दशा में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  राजेश शुक्ल के द्वारा ग्राम पंचायत स्तर पर मानीटरिंग एवं भ्रमण कर राहत कार्य को कराया जा रहा है। इसके तहत तीनों जनपदों में क्लस्टवार नोडल अधिकारी नियुक्त किये गये जिनके द्वारा प्रभावित ग्रामों में सतत भ्रमण कर जानकारी एकत्रित कर समस्याओ को प्राथमिकता से निराकरण कराने की कार्यवाही की जा रही है। अतिवृष्टि से प्रभावित गॉवों में भोजन की व्यवस्था पंचायत स्तर पर की जा रही है, मुख्य कार्यपालन अधिकारी के द्वारा सख्त निर्देष दिये गये कि किसी भी स्थिति में किसी भी व्यक्ती को भोजन की समस्या नही आनी चाहीए इसके लिये श्योपुर जनपद पंचायत की प्रभावित ग्रामों की सी.एफ.टी. ढोढर, मानपुर, सोई, जलालपुरा चोकी, ललितपुरा, पहाडली, हिनरी खेडा सचिवों के अलावा स्वसहायता समूह की महिलाओं के द्वारा समर्पित होकर भोजन के पेकेट को बनाकर वितरण कराया जा रहा है।

अतिवृष्टि के कारण ग्रामों में मृत पशुओं को जल्द से जल्द डिस्पोजल करने के निर्देष मुख्य कार्यपालन अधिकारी के द्वारा जारी किये गये, जिसके तहत श्येपुर जिले की जनपद पंचायत श्योपुर में 737, जनपद पंचायत कराहल में 246 तथा जनपद पंचायत विजयपुर में 48 मृत जानवरों का डिस्पोजल करने का काय किया जा चुका है, साथ ही सडे अनाज को भी प्राथमिकता के आधार पर डिस्पोजल किया जा रहा है।

अतिवृष्टि के कारण ग्रामों में वाधित हुए मार्गो को ठीक  कराने की दशा  में कार्य कराया जा रहा है जिसके तहत लगभग सभी गॉवों में मार्गो को ठीक किया जा रहा है इसके साथ ही विमारियों को फैलने से राकने के लिये गॉवों में अति वृष्टि के कारण पैदा हुई गंदगी की सफाई के साथ साथ दवा का छिडकाव करने के  साथ ही स्वास्थ्य कैम्प तथा दवाओं के वितरण ग्राम स्तर पर किया जा रहा है। ग्रामीणें के नुकसान का भी सर्वे कार्य भी गंभीरता से कराया जा रहा है जिससे ग्रामीणों को राहत कार्य जल्द ही पूर्ण किया जा सके।