एक कदम महिला सशक्तिकरण की ओर कार्यशाला

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-महिला अधिकारिता विभाग बूंदी द्वारा शनिवार को धनेश्वर ग्राम में वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय के निर्देशन में महिला सशक्तिकरण पर कार्यशाला व नन्हीं बालिकाओं के जन्मोत्सव का आयोजन किया गया। सहायक निदेशक भैरू प्रकाश नागर की अध्यक्षता में आयोजित कार्यशाला में कोटा सीओ प्रदीप चित्तोड़ा, मोटीवेटर समन्वयक सर्वेश तिवारी व महिला सामाजिक कार्यकर्ता अनिता मुख्य वक्ता थे। वक्ताओं ने महिलाओं को सशक्तिकरण हेतु प्रेरित करते हुए कहा कि घूंघट महिलाओं के आत्मविश्वास में बाधक है तथा उनमें स्वयं के प्रति हीन भावना जागृत करता है। संभागी महिलाओं ने घूंघट छोड़कर स्वयं के विकास से जुड़ी योजनाओं में सहभागी बनने का संकल्प लिया वही नन्हीं बालिकाओं का जन्मोत्सव मनाया गया व अतिथियों उपहार प्रदान किए ।




धनेश्वर ग्राम के अटल सेवा केंद्र पर कोरोना जागरूकता के साथ संभागियों को मास्क वितरण किया गया इसके बाद नन्हीं नन्हीं बालिकाओं ने केक काटकर अपना जन्मदिन मनाया इस अवसर पर इन बेटियों व उनकी माताओं की खुशी देखने लायक थी । यह पहला अवसर था जब इन बेटियों का महिलाओं ने इस तरह जन्मदिन मनाया था। अतिथियों ने बालिकाओं को उपहार भेंट किए जिन्हें पाकर उनके चेहरे खिल उठे। खुला विश्वविद्यालय द्वारा ग्राम विकास कार्यक्रमों की श्रंखला में महिलाओं में स्वयं के प्रति आत्मबोध जागृत करने व जनचेतना कार्यक्रमों द्वारा सशक्त करने के उद्देश्य से महिला सशक्तिकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसका विषय एक कदम महिला सशक्तिकरण की ओर रखा गया। कार्यशाला का शुभारंभ सहायक निदेशक भेरू प्रकाश नागर ने महिलाओं को विभिन्न विकास योजनाओं से परिचय करवाते हुए कहा कि महिला शक्ति के विकास में घूंघट बाधक है यह उनके आत्मविश्वास में कमी लाता है ।




इस क्रम में घूंघट मुक्त धनेश्वर थीम पर मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए चित्तौड़ा ने महिलाओं को आध्यात्मिक सशक्तिकरण के उदाहरणों द्वारा बताया कि महिलाएं जन्म से ही शक्ति पर्याय होती हैं लेकिन वे वातावरण व सामाजिक कुप्रथाओं के प्रभाव में अपने आप को कमजोर मानने लगती है समय की महती आवश्यकता है कि महिलाएं स्वयं की शक्ति को पहचानें व आत्मसात करे। मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए तिवारी ने महिलाओं को आत्मसशक्तिकरण के विभिन्न आयामों से परिचित करवाया व उन्हें भय मुक्त होकर सामाजिक सरोकारों के साथ विकास योजनाओं में सहभागी बनने हेतु प्रेरित किया। कोटा से पधारी महिला सामाजिक कार्यकर्ता अनीता ने महिलाओं को दैनिक जीवन में आत्मबल मजबूत करने के विभिन्न उपाय बताएं। इससे पूर्व काउंसलर मोना शर्मा ने अतिथियों का स्वागत अभिनंदन करते हुए सखी वन स्टॉप सेंटर महिला सुरक्षा केंद्र इंदिरा महिला शक्ति योजनाओं शिक्षा क्षेत्र योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन विभाग के रविराज मिश्रण ने किया व साथिन कमलेश टेलर ने अतिथियों का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर महिला संभाग़ियों सहित कनवास के स्काउट स्थानीय संघ सचिव नरेश चित्तौड़ा रोवरमेट आतिश वर्मा सामाजिक कार्यकर्ता लोकेश सैनी शंभू लाल मीणा, मीना कुमारी ने कार्यशाला में अपने विचार व्यक्त किए।