पशु पक्षियों के बिना प्रकृति अधुरी हैं – अमानुल्लाह खान

बून्दी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com – सभी धर्मो में पर्यावरण का स्थान महत्वपूर्ण हैं और प्रकृति में पशु पक्षी महत्वपूर्ण हैं। ऐसा कहना हैं अतिरिक्त जिला कलक्टर अमानुल्लाह खान का। उमंग संस्थान के सेव बर्ड्स कार्यक्रम के तहत अतिरिक्त जिला कलक्टर अमानुल्लाह खान ने गर्मियों मे बेजुबान पक्षियों के लिए परिण्डे लगाते हुए कहा कि पशु पक्षियों के बिना प्रकृति अधुरी हैं। गर्मियो में सूखते जल स्त्रोतों के चलते पशु पक्षियों के सामने पीने के पानी की समस्या रहती हैं। इन्होंने ग्रीष्मकाल में पशु पक्षियों के लिए जल सेवा की आवश्यकता बताते हुए इनके लिए नियमित दाने पानी का इंतजाम करने की अपील की।
अतिरिक्त जिला कलक्टर खान ने उमंग संस्थान के कार्यो की सराहना करते हुए ग्रीष्मकाल में पशु पक्षियों के लिए नियमित दाने पानी का इंतजाम करने की अपील की।
इस अवसर पर संस्थान के सचिव कृष्ण कान्त राठौर ने संस्थान की गतिविधियों का परिचय देते हुए बताया कि सेव बर्ड्स कार्यक्रम के तहत हर साल 20 मार्च गौरेया दिवस से निरन्तर बेजुबान पक्षियों के लिए परिण्डा कार्यक्रम 20 जून तक संचालित रहता हैं। इस मौके पर संस्थान के उपाध्यक्ष लोकेश जैन, पर्यवेक्षक डॉ. युवराज सिंह दयालपुरा, समन्वयक सर्वेश तिवारी, सेव बर्ड्स कार्यक्रम के सह प्रभारी महावीर सोनी, दीपक शर्मा मौजुद रहे।