दो दिन की बारिश में धरे रहे गए नपा के दावे, हर तरफ दिखा मुसीबतों का समंदर

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> शहर में जल निकासी के इंतजाम पूरी तरह फेल नजर आ रहे हैं। रविवार-सोमवार को हुई बारिश में शहर के हालात बूरी तरह बिगड़ गए और नपा के दावों की पोल खुलते देर नहीं लगी। स्थिति यह बनी कि शहर में चारों ओर मुसीबत का समंदर देखने को मिला। मानसून से पूर्व नपा ने दावा किया था कि इस बार की बारिश में शहर में जल भराव की समस्या निर्मित नहीं होगी और इसके लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं, लेकिन रविवार और सोमवार को हुई बारिश ने नपा के दावों और तैयारियों की असलियत बयां कर दी। शहर ऐसा कोई गली मोहल्ला नहीं बचा जहां घुटनों व कमर-कमर तक पानी न भर गया हो। इस जल भराव से आमजन को भारी परेशानियों से जूझना पड़ा साथ ही लोगों के घर व दुकानों में पानी भर जाने से उनका काफी नुकसान भी हुआ। असल में यह पूरी समस्या शहर के चौक हो चुके नाले नालियों की नियमित सफाई न होने से निर्मित हो रही है और मानसून से पूर्व इनकी साफ सफाई कागजों में कर दी गई। इस कारण अब जब बारिश होती है तो पूरे ही जल निकासी सिस्टम फेल हो जाता है।

 

बिगड़ रहे हालात

बारिश के मौसम में शहरवासियों को जल भराव की समस्या ने छका रखा है और शहर के कई इलाकों में हालात बुरी तरह बिगड़ जाते हैं, आलम यह है कि गली मोहल्लों के साथ ही लोगों के घरों में गंदा पानी भर जाता है। इस स्थिति से अवगत होने के बाद भी नपा ने पूर्व कोई योजना नहीं बनाई बल्कि कोरे दावों के बल पर वाहवाही लूटी जाती रही। जिसका खामियाजा जनता को उठाना पड़ रहा है।

 

गर्मी से मिली राहत

झमाझम बारिश से शहरवासियों को गर्मी से राहत मिली है। मोसम विभाग ने पूर्व में ही अंदेशा जताया था कि रविवार-सोमवार को तेज बारिश हो सकती है और हुआ भी कुछ ऐसा ही। मोसम विभाग की माने तो आगामी दिनों में अच्छे मानसून की उम्मीद है। इससे गर्मी से राहत मिली है तो तेज धूप पडऩे से उमस भी बड़ सकती है फिलहाल लोग ठंडक महसूस हो रही है।