मोमिन भाई आपस में मिलकर करें एक दूसरे की मदद- शहर क़ाज़ी मौलाना निजामुद्दीन

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com- रूयते-ऐ-हिलाल कमेटी सरपरस्त शहर काजी मौलाना निजामुद्दीन की ओर से शहर के तमाम मुसलमानों से पुरजोर गुजारिश करते हुए कहा कि सरकार की गाइड लाइन का पूरी तरीके से पालन करें। बिना जरूरत घर से बाहर बिल्कुल ना निकले, जरूरी काम हो तो ही ही घर से बाहर निकले, अपना और अपने घर और अहलो अयाल की जान बचायें।

उन्होने कहा कि अभी हमारा मुल्क बहुत नाजुक दौर से गुजर रहा है, कोरोना की दूसरी लहर लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रही है। जरा सी लापरवाही में बुजुर्ग और नौजवान अपनी जान गवां रहे हैं। इसलिए सभी लोग घरों में ही रहे, मास्क लगाकर रखें, घर में भी ज्यादा मेंबर एक साथ बैठे हो तो मास्क जरूर लगाएं। बार-बार सैनिटाइजर का प्रयोग करें। जब भी बाहर से आये साबून से अच्छी तरह अपनक हाथ धोएं।
उन्होने कहा कि घर में रहकर ही खुदा की इबादत करें और हर नमाज और कुरान की तिलावत के बाद लोगों की सलामती और कोरोनावायरस से निजात की दुआएं जरूर करें।
उन्होंने कहा कि यह दौर आपसी भाईचारे, हमदर्दी और इंसानी मदद का है, इस समय हम एक दूसरे के मददगार बने, अपने गली मोहल्ले और पड़ोस में कोई भूखा ना रहे उसके लिए ध्यान रखें।
उन्होने कहा कि हमारी कौम के जो साहिबे हैसियत लोग हैं उनसे भी गुजारिश है कि वह जरूरतमंद लोगों की ज्यादा से ज्यादा मदद करें। अपनी हैसियत या आपस में मिलकर ऑक्सीजन लेवल नापने के पल्स ऑक्सीमीटर मशीन, नेबुलाइजर मशीन आदि अपने स्तर पर मंगवा कर रखें ताकि मामूली तकलीफ में अस्पताल की तरफ देखना नहीं पडे। सही जानकारी किसी अनुभवी विशेषज्ञ लेकर खुद के स्तर पर भी लोगो का जीवन बचाया जा सकता है।
अगर ऑक्सीजन सिलेंडरों का भी इंतजाम हो सकता है तो करें। सरकार और जिला प्रशासन पूरी कोशिश कर रहा है। आप और हम भी इस कोशिश में मददगार बने अपना और अपने शहर के लोगों का जीवन बचाएं।