सकारात्मक परिणाम नहीं देने वालों के प्रति सख्ती बरतें : राज्य मंत्री श्री यादव

भोपाल.Desk/ @www.rubarunews.com>> लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री  बृजेंद्र सिंह यादव ने कहा है कि ग्रामीण आबादी की पेयजल व्यवस्था के लिए संचालित जल जीवन मिशन में लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि हासिल की जाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि स्वच्छ और गुणवत्तापूर्ण जल हर व्यक्ति के जीवन के लिए जरूरी है, इसी आवश्यकता के दृष्टिगत इस वर्ष भारत सरकार से प्रदेश के लिये 5116 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत हुई है जो पिछले साल की तुलना में तीन गुना से भी अधिक है।

 

राज्य मंत्री श्री यादव ने आज विभागीय समीक्षा करते हुए कहा कि सकारात्मक परिणाम नहीं देने वालों के प्रति सख्ती बरती जाए। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन में वर्षवार निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति में कोरोना संक्रमण के दौरान आया गतिरोध तकरीबन समाप्त हो चुका है। सभी अधिकारी अपने क्षेत्र के लिए बनी जलप्रदाय योजनाओं का कार्य पूरी मुस्तैदी और तीव्रता से करें।

 

प्रदेश में संचालित 16 हजार 574 नल-जल योजना और साढ़े पांच लाख हेण्डपम्पों की स्थिति की समीक्षा की गई। राज्य मंत्री श्री यादव ने कहा कि इनमें से जो क्रियाशील नहीं हैं उनके सुधार की त्वरित कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि पेयजल के संबंध में मिली किसी भी शिकायत का त्वरित निराकरण किया जाए और इस हेतु मॉनिटरिंग की समुचित व्यवस्था भी करें।

 

जल जीवन के अंतर्गत प्रदेश में अब तक 39 लाख 42 हजार से अधिक नल कनेक्शन दिए जाने की जानकारी बैठक में दी। प्रदेश के करीब 45 हजार आंगनवाडी एवं स्कूलों में नल से जल उपलब्ध करवाया गया है। चालू वित्तीय वर्ष में अब तक 724.98 करोड़ रुपए का व्यय जल जीवन मिशन के अंतर्गत किया जा चुका है। बैठक में जल निगम के प्रबंध संचालक श्री तेजस्वी एस. नायक, प्रमुख अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी  के.के. सोनगरिया सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।