लगने वाला है साल का पहला चन्द्र ग्रहण, जानिये कब और कहा देगा दिखाई

नईदिल्ली.Desk/ @www.rubarunews.com- 2021 का पहला चन्द्र ग्रहण इस मई माह के अंत वैशाख पूर्णिमा 2078 संवत की 26 तारीख को दिखाई देने वाला है। यूँ तो वेज्ञानिको द्वारा जानकारी दी गई कि सम्पूर्ण भारत मे इस ग्रहण को देखा नहीं जा सकेगा। परन्तु देश के पूर्वोत्तर भाग में और पश्चिम बंगाल के कुछ भागो में यह चन्द्र ग्रहण दिखाई द3 सकता है। ज्योतिषाचार्यो के अनुसार चंद्रग्रहण दोपहर 2:18 बजे शुरू होगा, जो शाम 7:19 बजे तक रहेगा। लेकिन सूतक भारत मे मान्य नहीं होगा।

 

◆ क्या होता है चन्द्र ग्रहण
ग्रहण एक प्रकार की खगोलीय स्थिति होती है, जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है और चंद्रमा पृथ्वी की छाया से होकर गुजरता है और जिसके कारण सूर्य का प्रकाश भी चांद पर नहीं पड़ता है, इसी कारण इसे चंद्र ग्रहण कहा जाता है। ये घटना केवल पूर्णिमा के दिन ही घटित होती है। वेज्ञानिक दृष्टि के अलावा इस घटना का धार्मिक महत्व भी माना जाता है ।

ज्योतिष दृष्टि कोण में यह चंद्रग्रहण वृश्चिक राशि और अनुराधा नक्षत्र में लगेगा। इन्ही कारणों से इसका ज्यादा प्रभाव इसी राशि और नक्षत्र में जन्म लेने वाले जातकों पर पड़ सकता है।
26 मई पूर्णिमा को लगने वाले इस पूर्ण चंद्र ग्रहण का मध्यान्ह 3 बजकर 15 मिनट पर शुरू होगा, इसकी उच्चतम अवस्था शाम 4 बजकर 49 मिनट तक रहेगी और समाप्ति सायंकाल 6 बजकर 23 पर होगी ओर पूर्णतः यह शाम 7:19 खत्म होजायेगा। बता दे की इस संवत्सर 2078 का यह प्रथम ग्रहण है। इस वर्ष कल लगने वाले चन्द्र ग्रहण के साथ दिसंबर तक तीन और ग्रहण लगेंगे जिनमे 2 सूर्य और एक चंद्र ग्रहण शामिल होगा।

 

◆ अमेरिका में दिख सकेगा चन्द्र ग्रहण –
भारत मे दिन का समय2 होने के कारण चंद्र ग्रहण पूर्वी एशिया, प्रशांत महासागर, उत्तरी और दक्षिण अमेरिका के ज्यादातर हिस्सों में और ऑस्ट्रेलिया में यह पूर्ण चंद्रग्रहण दिखाई दे सकेगा। भारत के अधिकांश हिस्सों में पूर्ण चंद्रग्रहण के दौरान चंद्रमा पूर्वी क्षितिज से नीचे होगा इसलिए देश के लोग इस पूर्ण चंद्र ग्रहण को नहीं देखने में असमर्थ रहेंगे। बताया गया है की देश के कुछ पुर्वी इलाको में आंशिक चंद्र ग्रहण का आखिरी हिस्सा जरूर देखा जा सकेता हौ।