तीसरे चरण में वैक्सीनेशन के लिए तैयारियों को बढाएं-जिला कलेक्टर

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com- जिले के राजस्व अधिकारियों की बैठक जिला कले सभागार में जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित हुई।
बैठक में जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए कि तीसरे चरण में मार्च माह में 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग तथा गंभीर बीमारी वाले 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। इस कार्य के लिए वर्तमान तैयारियों को बढाना होगा। इसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां रखी जावे। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है, इसलिए हम सभी को सक्रिय होकर अधिक क्षमता के साथ वेक्सीनेशन करना होगा। उन्होंने निर्देश दिए कि इस कार्य को प्राथमिकता पर रखें।
उन्होंने निर्देश दिए कि अधिकारी उनके विभाग से संबंधित बजट घोषणाओं को ध्यान में रखते हुए कार्य करें। उन्होंने निर्देश दिए कि राजस्व संबंधी स्टार प्रकरणों का रूचि लेकर निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। आम रास्तों के अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही भी प्राथमिकता से की जाए। इसके अलावा मौका निरीक्षण पर्याप्त संख्या में किए जाए। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि संपर्क पोर्टल पर दर्ज पानी, बिजली एवं विभिन्न विभागों से संबंधित ऐसे प्रकरण जिनमें विभाग की ओर से राहत दी गई है, उनकी रेण्डम जांच की जावे।
कलेक्टर ने नामांतकरण की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि नामांतकरण को कोई भी प्रकरण शेष नहीं रहे, इसकी सुनिश्चितता की जाए। संपरिवर्तन के प्रकरण पंेडिंग नहीं रखे जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि कि एलआर एक्ट वसूली के प्रकरणों का मार्च महीने में ही निस्तारण किया जावे। उन्होंने निर्देश दिए कि राजस्व प्राप्ति के सभ्ी लक्ष्य तय समय पर अर्जित किया जाना सुनिश्चित करें। इस दौरान जिला कलक्टर ने नियम 141 के तहत पंजीबद्ध दस्तावेजों के निस्तारण तथा पंजीयन एवं मुद्रांक वसूली की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।
अभी से करें तैयारी
बैठक में कलेक्टर ने बताया कि मई माह में राज्य सरकार द्वारा प्रशासन गांवों के संग अभियान की शुरूआत की जाएगी। इसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां अभी से पूरी कर ली जाए, ताकि शिविर आयोजन के दौरान अधिक से अधिक लोगों को राहत दी जा सके। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर एयू खान, समस्त उपखण्ड अधिकारी एवं तहसीलदार मौजूद रहे।

तीसरे चरण में बडी संख्या में होगा टीकाकरण-जिला कलेक्टर
जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक  जिला कलक्टेªट सभागार में जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित हुई।
बैठक में जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए कि मार्च में महीने में वैक्सीनेशन का तीसरा चरण शुरू होगा। इसमें 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग तथा 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के ऐसे लोग जिन्हें गंभीर बीमारी है उनका टीकाकरण किया जाएगा। इस चरण में बडी संख्या में टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए सभी सक्रिय होकर कार्य करें।
उन्होंने निर्देश दिए कि दो से तीन दिवस पूर्व टीकाकरण किए जाने वाले व्यक्तियों की सूची उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा कि जल्दी सूची मिलने पर ज्यादा से ज्यादा लोगों को टाकाकरण से कवर किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के तीसरे चरण का कार्य समयबद्धता के साथ पूर्ण हो, इसकी सुनिश्चितता की जाए।
उन्होंने निर्देश दिए कि टीकाकरण के लिए हर पंचायत में एक संेटर बनाया जाए। इसके लिए उचित भवन व स्थान का अभी से चयन किया कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि पंचायतराज व कृषि विभाग के जिन कार्मिकों का टीकाकरण हो चुका है, उनका सहयोग भी इस कार्य में लिया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि टीकाकरण के दौरान अधिकतम दूरी के फार्मूले पर चलना होगा।
उन्होंने निर्देश दिए कि टीकाकरण स्थल पर पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हो और टीम दक्ष हो। उन्होंने निर्देश दिए कि शिक्षा विभाग के कार्मिकों को भी प्रशिक्षण दिलाया जाएं। इन कार्मिकों का उपयोग आब्जर्वेशन आदि कार्यो में लिया जाए। चिकित्सा विभाग की ओर से टीकाकरण सेंटर पर वेक्सीनेटर की उपलब्ध रहे। उन्होंने निर्देश दिए कि टीकाकरण के लिए बनाए जाने वाले सेंटर के दौरान यह ध्यान रखा जाए कि केन्द्र की कनेक्टिविटी सडक से हो।
उन्होंने निर्देश दिए कि शहरी क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए वार्डवार स्थान निर्धारित किए जाए। किस स्थान पर किस वार्ड के लोगों का टीकाकरण होगा। यह भी तय कर लिया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि लक्ष्य के अनुरूप शत प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित हो। इसके अलावा इस कार्य में बीएलओ को भी शामिल किया जाए।
बैठक में जिला कलक्टर ने संस्थागत प्रसव की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि जिन स्थानों पर लेबर रूम रिपेयर अथवा निर्माण का कार्य करवाया जा रहा है, उनको शीघ्र पूर्ण करवाया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि बिना करण बताए पीएचसी से अनुपस्थित रहने वालों के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि जेएसवाई योजना का भुगतान समय पर हो। इस दौरान उन्होंन टीकाकरण एएनसी, राजश्री योजना की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।
बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. महेन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि वेक्सीनेशन के तीसरे चरण सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि वैक्सीन की दूसरी खुराक अत्यंत जरूरी है। उसके बिना पहली खुराक का महत्व नहंी हैं। उन्होंने कहा कि वेक्सीन बिल्कुल सुरक्षित है। इस दौरान उन्होंने टीकाकरण के तीसरे चरण के लिए की गई तैयारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
——-

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com