शोध के क्षेत्र में छोटी-छोटी जानकारियों को हासिल करते हुए आगे बढ़े -डॉ. आशुतोष In the field of research, move ahead by getting small details – Dr. Ashutosh

बून्दी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com-  राजकीय महाविद्यालय, बूंदी में स्नातकोत्तर भूगोल परिषद के तत्वावधान में एक दिवसीय विस्तार व्याख्यान डॉ. एन.के. जेतवाल की अध्यक्षता में आयेजित हुआ, जिसमें कन्या महाविद्यालय से सहायक आचार्य डॉ. आशुतोष बिरला मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद रहे। अध्यक्षीय उद्बोधन में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. एन.के. जेतवाल ने बताया कि ऐसे कार्यक्रम महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं के लिए अत्यंत उपयोगी है, जिनमें सभी छात्र-छात्राओं को बढ़-चढ़कर भाग लेना चाहिए।

शोध के क्षेत्र में छोटी-छोटी जानकारियों को हासिल करते हुए आगे बढ़े -डॉ. आशुतोष In the field of research, move ahead by getting small details – Dr. Ashutosh

मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए डॉ. आशुतोष बिरला ने कहा कि भूगोल की विद्यार्थियों को सदैव भूगोल रूपी चश्मा धारण किए रहना चाहिए अर्थात दैनिक जीवन एवं आसपास की प्रत्येक वस्तु को भूगोल के दृष्टिकोण से ही देखना चाहिए। उन्होंने छात्र-छात्राओं को बताया कि किस प्रकार शोध के क्षेत्र में छोटी-छोटी जानकारियों को हासिल करते हुए आगे बढ़ा जा सकता है। विभागध्यक्ष डॉ. आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि भूगोल के प्रत्येक विद्यार्थी को भूगोलवेत्ता के समान दृष्टिकोण रखना चाहिए तथा सभी तथ्यों को एक शोधकर्ता की दृष्टि से देखना चाहिए। संकाय सदस्य डॉ. जुबेर खान व डॉ. निधि खिन्दुका जैन ने कार्यक्रम का संक्षिप्त परिचय प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. भारतेंदु गौतम ने तथा संकाय सदस्य दिनेश कुमार शर्मा ने सभी का आभार जताया। कार्यक्रम में स्नातकोत्तर पूर्वार्द्ध एवं उत्तरार्द्ध के सभी छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।