विश्व गुरु भारत के बिहार-झारखंड के साप्ताहिक प्रकाशन का भव्य शुभारंभ

पटना।Desk/ @www.rubarunews.com>> बिहार के लिए विश्व गुरु भारत के बिहार झारखंड के एक साथ साप्ताहिक प्रकाशन के ऐतिहासिक क्षणों के गवाह बने बिहार के उद्योग मंत्री समीर महासेठ, जानकी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मृत्युंजय झा, पॉलिटिकल एनालिस्ट संजय कुमार,विख्यात पत्रकार प्रवीण बागी , आर एस पी एल अध्यक्ष राजेश कंठ, सामाजिक _ राजनीतिक हस्ताक्षर अभय सिंह,हर कार्यक्रम की जान डॉक्टर संजय सहाय,अखिल भारतीय कायस्थ महासभा बिहार के अध्यक्ष राजीव रंजन सिन्हा,राष्ट्रीय महामंत्री मनहर कृष्णअतुल ,विख्यात पत्रकार कमलनयन श्रीवास्तव, माया श्रीवास्तव, (समर्थ नारी _ समर्थ भारत की राष्ट्रीय शख्शियत) सहित बड़ी संख्या में पत्रकार,विद्वान, मातृ शक्ति महिलाएं, बनीं।
बिहार के ब्यूरो चीफ अमरेश श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कार्यक्रम की शुरुआत फूलबाबू पांडेय की सरस्वती वंदना से हुई, और उपस्थित लोगों की जोरदार तालियों के बीच प्रवीण बागी का पत्रकारिता का गंभीर और उदास भूमिका की सार्थकता, संजय कुमार का गरिमापूर्ण पॉलिटिकल एनालाइज, मृतुन्जय झा की प्रभावी असरदार व्याख्यान, नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के प्रो वी सी संजय कुमार ने विश्व गुरु भारत की भुरि भुरि प्रशंसा की ।
अपने संबोधन में उद्योग मंत्री समीर महासेठ ने विश्व गुरु भारत न्यूज पेपर की निष्पक्षता,जन सरोकार से जुड़ी खबरों की प्रमुखता से प्रकाशन,भेदभाव के बिना ही समाचार संकलन, निर्भीक ,पत्रकारिता की मिसाल विश्व गुरु भारत ने कम ही समय में बिहार में पी डी एफ से प्रकाशन तक की दूरी तय कर लंबी छलांग लगाई है ।मधुबनी में जिस दिन मैं अपने गुरुदेव प्रो जे पी सिंह की अध्यक्षता में विश्व गुरु भारत के पी डी एफ का शुभारंभ कर रहा था तो यह अंदाजा लगाना मुश्किल था कि,यह न्यूज पेपर इतनी जल्दी न्यूज पेपर की दुनिया में इतना असरदार जगह बना लेगा !
आज विश्व गुरु भारत के साप्ताहिक प्रकाशन के भव्य शुभारंभ समारोह में अपनी उपस्थिति दर्ज कर दिली खुशी हो रही है _ यह दिन मै कभी नहीं भूल पाऊंगा ।
मेरी एक सलाह है कि, इसका एक पेज ही उद्योग के बढ़ते चरण का रखा जाए ताकि,बिहार में हो रहे कार्यों, स्टार्टअप्स के विकास के लेखा जोखा से युवाओं का रुझान इस अखबार की ओर हो जाए, मेरा इस अखबार के प्रोमोशन में हर तरह का सहयोग रहेगा ।
अंत में, नरेश प्रसाद कर्ण और नीता सिन्हा, स्वेता प्रियदर्शिनी,शशिरंजन श्रीवास्तव,नरेंद्र कुमार,शंकर राउत,मोहन प्रसाद,मनीष कुमार,राजन वर्मा,अर्जुन सिंह ,निर्मला श्रीवास्तव के समवेत धन्य वाद ज्ञापन से कार्यक्रम समाप्त हुआ