कायस्थों के सर्वांगीण विकास के लिये जीकेसी सशक्त संगठन – राजीव रंजन प्रसाद

पटनाDesk/ @www.rubarunews.com-  कायस्थों के हित की रक्षा के लिए राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्यरत संस्था ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) के 20 से अधिक प्रकोष्ठों के अध्यक्षों और प्रभारियों को मनोनयन कर दिया गया है।

 

जीकेसी के राष्ट्रीय प्रवक्ता कमल किशोर ने बताया कि जीकेसी के ग्लोबल अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने संगठन के विभिन्न प्रकोष्ठों को सक्रिय तथा मजबूती प्रदान करने के उद्देश्य से देश के विभिन्न हिस्सों में कार्यरत कायस्थ प्रतिनिधियों को विधिवत जिम्मेवारी सौंपते हुए उनका मनोनयन किया है । उन्होंने बताया कि सभी प्रकोष्ठ के प्रभारियों को विभिन्न कार्यक्रम संयोजित करने और उसे हर स्तर पर सक्रिय करने का निर्देश जारी किया गया है ।

श्री किशोर ने बताया कि महिला एवं गो ग्रीन कैंपेन की जिम्मेवारी प्रबंध न्यासी श्रीमती रागिनी रंजन को सौंपी गई है।इसी प्रकार डा. नम्रता आनंद और श्वेता सुमन को ग्रीन सह प्रभारी, भारती श्रीवास्तव और सुबाला वर्मा को महिला सह प्रभारी, बी के सहाय को अनुशासन समिति अध्यक्ष,दीपक अभिषेक को सदस्यता अभियान प्रभारी, कायस्थ मोहम्मद अमीन को मुख्यालय एवं प्रशासनिक लियाजन, अखिलेश श्रीवास्तव को कोष संग्रह का प्रभारी बनाया गया है। इसी तरह निष्का रंजन को ओवरसीज, आनंद सिन्हा को लीगल, चेपोफ, चित्रांश चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ,एजुकेशन ,ट्रेनिंग, दीपक कुमार वर्मा को युवा, कला एवं संस्कृति ,राजनीतिक प्रकोष्ठ, अवनीश श्रीवास्तव को आई टी, डिजिटल मीडिया ,मीडिया, प्रिय मल्लिक को यूट्यूब ,डिजिटल मैगज़ीन रीना सिन्हा को लीगल सेल सह प्रभारी, प्रेम कुमार को स्पोर्ट्स और योग ,अजयेश श्रीवास्तव को चेपोफ सह प्रभारी और मुकेश वर्मा को सम्बद्धता ,समन्वय -राष्ट्रीय समन्वयक प्रभारी मनोनीत किया गया है।

श्री प्रसाद ने बताया कि जीकेसी को हर स्तर पर और हर क्षेत्र में सक्रिय एवं मजबूत किया जा रहा है ।उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में जीकेसी कायस्थों के सामाजिक आर्थिक राजनीतिक शैक्षणिक तथा सांस्कृतिक क्षेत्र में बेहतर अवसर प्रदान करने वाला एक सशक्त संगठन साबित होगा ।इस दिशा में जीकेसी की ओर से देश के विभिन्न हिस्सों में और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी वेबीनार एवं ऑनलाइन कार्यक्रमों के माध्यम से प्रतिदिन लगातार प्रयास किए जा रहे हैं ।श्री राजीव रंजन प्रसाद ने बताया कि बिहार के 38 में से 36 जिलों में जीकेसी के जिला अध्यक्षों का मनोनयन कर दिया गया है और वहां विधिवत संगठन मूर्त रूप लेने जा रहा है।