पुणे.Desk/@www.rubarunews.com-कोरोना महामारी के बीच देश में 16 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू होगा. इसके मद्देनजर सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) के पुणे स्थित संस्थान से कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) को विभिन्न स्थानों पर भेजने का काम आज 12 जनवरी (मंगलवार) से शुरू हो गया है. पहले चरण में भारत सरकार ने SII को 1 करोड़ 11 लाख डोज का ऑर्डर दिया है. जिसकी सप्लाई आज से शुरू हो गई है. वैक्सीन से लदे कंटेनर व्यापक पुलिस सुरक्षा के बीच सीरम इंस्टीट्यूट से रवाना हुए.

 

देश मे कोरोना के 4 डिस्ट्रीब्यूटर सेंटर बनाये गए है और राज्य के 37 सेंटर के माध्यम से वैक्सीन को हेल्थ केयर वर्कर्स ओर फ्रंट लाइन वररिर्स तक पहुचाया जाएगा ,आज सुबह सीरम इंस्टीट्यूट से कोविशील्ड वैक्सीन के बॉक्स को पुणे एयरपोर्ट ले जाने के लिए तीन कंटेनर ट्रकों को बुलाया गया. इन ट्रकों में वैक्सीन को तीन डिग्री तापमान में रखकर पुणे एयरपोर्ट पहुंचाया गया, जहां से कुल 8 उड़ानें कोविशील्ड वैक्सीन को 13 विभिन्न स्थानों पर ले जाएंगी.

पहली फ्लाइट दिल्ली एयरपोर्ट के लिए रवाना होगी. दिल्ली से वैक्सीन को देश के अलग-अलग हिस्सों में भेजा जाएगा. निर्धारित प्रोटोकॉल के मुताबिक, सबसे पहले इसे हेल्थकेयर कर्मियों यानी डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिक्स और स्वास्थ्य से जुड़े लोगों को दिया जाएगा। 

इनकी संख्या 80 लाख से एक करोड़ बताई जा रही है। अगला चरण होगा करीब दो करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स यानी राज्य पुलिसकर्मियों, पैरामिलिटरी फोर्सेस, फौज, सैनिटाइजेशन वर्कर्स को वैक्सीन मुहैया कराने का। इस दौरान करीब 27 करोड़ ऐसे लोगों का डाटा जुटाया जाता रहेगा, जिनकी उम्र 50 साल से ज्यादा है या कम मगर वे किसी न किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं।

50 साल से नीचे की उम्र के वो लोग भी टीकाकरण अभियान में शामिल होंगे जिनमें कोरोना के लक्षण रहे हों। इसके तहत जिन भी बच्चों को ये वैक्सीन दी जाएगी उनके स्वास्थ्य लक्षणों की निरंतर मॉनिटरिंग की जाएगी।