सीप नदी में फसें 11 व्यक्तियों की जिला प्रशासन की टीम ने बचाई जान

कलेक्टर-एसपी ने जलालपुरा में पार्वती नदी के जल स्तर का लिया जायजा
श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>>कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक सम्पत उपाध्याय ने श्योपुर जिले में आज हुई 236.2 मिली मीटर वर्षा के कारण जिले की नदी और नालो में आये पानी के बहाव के मद्देनजर निर्मित होने वाली बाढ की स्थिति पर निगरानी रखने की कडी में मप्र और राजस्थान की सीमा से निकलने वाली पार्वती नदी के जलालपुरा चौकी पहुचंकर पानी के जलस्तर का जायजा लिया। साथ ही पार्वती नदी के पुल पर चल रहे पानी की हकीकत जानी। इसी प्रकार श्योपुर शहर से निकलने वाली सीप नदी पर बने बजारा डैम में पानी के बहाव का अवलोकन किया। साथ ही अधिकारी/कर्मचारियों को पानी के बहाव पर सतत् निगरानी रखने के निर्देश दिये।

अपर कलेकटर  रूपेश उपाध्याय के नेतृत्व में श्योपुर तहसील के फतेहपुर के क्षेत्र से निकलने वाली सीप नदी में पानी के तेज बहाव के कारण फसे 11 व्यक्तियों की रेस्क्यू के माध्यम से जान बचाई गई। नदी में तेज बहाव के कारण रामकिशन जाट पुत्र  मूडीलाल 55 वर्ष, .बलराम जाट पुत्र  रामरतन 30 वर्ष,.रामप्रसाद गुर्जर पुत्र  मदरूप 28 वर्ष, .नत्थू खान पुत्र  ममदूखान 65 वर्ष, प्रीतम गुर्जर पुत्र  किशनलाल 40 वर्ष, रामवीर गुर्जर पुत्र  रामसिंह 24 वर्ष, परमा आदिवासी पुत्र  रत्ती 55 वर्ष निवासी सावड़ी, मोरपाल आदिवासी पुत्र  गिरिवर 19 वर्ष निवासी खोरी, दिलराज आदिवासी पुत्र  रामकिशन आदिवासी 18 वर्ष निवासी गड़ा एवं लवकुश आदिवासी पुत्र  रामनाथ 20 वर्ष निवासी आवदा, बंटू जाट 40 वर्ष निवासी नयागांव को सुरिक्षत बाहर निकाला गया। साथ ही रेस्क्यू टीम में शामिल एक व्यक्ति भी पानी  चपेट में आ गया। उसे भी टीम द्वारा बाहर सुरक्षित निकाल लिया गया है। इस दौरान होमगार्ड के जिला कमाण्डेट  कुलदीप मलिक, टीआई  गौरव शर्मा, तहसीलदार  राघवेन्द्र कुशवाह मौजूद रहे।

कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव द्वारा जिले में बाढ की संभावना को ध्यान में रखते हुए अधिकारी/कर्मचारियों की टीम पूर्व में गठित कर दी गई थी। साथ ही उनको बाढ की स्थिति की विभिन्न प्रकार की जिम्मेदारियां सौपी गई थी। जिसके अंतर्गत एसडीएम श्योपुर  विनोद सिंह, कराहल  विजेन्द्र सिंह यादव, विजयपुर  नीरज शर्मा, तहसीलदार वीरपुर  वीरसिंह आवासिया, बडौदा  भरत नायक, श्योपुर  राघवेन्द्र सिंह कुशवाह, कराहल  नवलकिशोर जाटव, विजयुपर  शिवराज मीणा द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में नदी, नालो के जल भराव पर निगरानी रखी जा रही है। साथ ही क्षेत्र का भ्रमण कर नदी, नालो के जल स्तर का निरीक्षण किया जा रहा है। कराहल क्षेत्र के ग्राम पहेला में जल भराव के कारण कुछ लोगो के मकान जलमग्न हो गये है। उन सभी व्यक्तियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है।

जिले में बाढ की संभावना को ध्यान में रखते हुए प्रशासन और पुलिस अधिकारी, कर्मचारी अपने-अपने क्षेत्र के नदी, नालो पर सतत् निगरानी रख रहे है। साथ ही ंचबल-पार्वती, सीप, कूनो, क्वारी, अहेली, बनास नदी के जल स्तर को ध्यान में रखते हुए सभी प्रकार की तैयारियां सुनिश्चित की गई है। जिससे आवश्यकतानुसार बाढ पर नियंत्रण किया जा सकेगा। साथ ही बाढ से घिरने वाले गांवो के व्यक्तियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जावेगी।