दीदीजी फाउंडेशन ने मनायी स्वामी विवेकानंद की जयंती Didiji Foundation celebrated the birth anniversary of Swami Vivekananda

पटना.Desk/ @www.rubarunews.com- सामाजिक संगठन दीदीजी फाउंडेशन ने आज स्वामी विवेकानंद की जयंती मनायी।
राजधानी पटना के कुरथौल स्थित दीदीजी फाउंडेशन संस्कारशाला में स्वामी विवेकानंद की जयंती मनायी गयी। इस अवसर पर स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यापर्ण किया गया। इस अवसर पर दीदीजी फाउंडेशन की संस्थापक राष्ट्रीय युवा पुरस्कार से सम्मानित डा. नम्रता आनंद ने कहा,हर साल 12 जनवरी को स्‍वामी विवेकानंद की जयंती मनाई जाती है। यह दिन देश के उन युवाओं को समर्पित किया जाता है, जो भारत के लिए एक स्वस्थ और बेहतर भविष्य को आकार देने की क्षमता रखते हैं। स्वामी विवेकानंद का युवाओं से गहरा नाता था, इसलिए उनके जन्‍म दिवस को युवाओं के लिए समर्पित किया गया है।
डा. नम्रता आनंद ने कहा, स्वमी विवेकानंद युवाओं के लिए किसी प्रेरणा से कम नहीं हैं। उन्होंने कई मौकों पर अपने अनमोल विचारों और प्रेरणादायक वचनों से युवाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। इसीलिए स्वामी विवेकानंद जी जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस के तौर पर मनाया जाता है। 11 सितंबर 1893 में अमेरिका में धर्म संसद का आयोजन हुआ, जिसमें स्वामी विवेकानंद भी शामिल हुए थे। यहां उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत हिंदी में ये कहकर की कि ‘अमेरिका के भाइयों और बहनों’। उनके भाषण पर आर्ट इंस्टीट्यूट ऑफ शिकागो में पूरे दो मिनट तक तालियां बजती रहीं। जो भारत के इतिहास में एक गर्व और सम्मान की घटना के तौर पर दर्ज हो गई। स्वामी विवेकानंद ने कहा था उठो, जागो, और ध्येय की प्राप्ति तक रूको मत।स्वामी विवेकानंद जीवन भर संन्याोसी रहे और अपनी आख़िरी सांस तक वह समाज की भलाई के लिए काम करते रहे. स्वामी विवेकानंद की कही बातें दुनिया भर के लोगों को प्रेरणा देती हैं।स्वामी विवेकानंद ने न सिर्फ भारत के उत्थाान के लिए काम किया बल्कि लोगों को जीवन जीने की कला भी सिखाई।

दीदीजी फाउंडेशन ने मनायी स्वामी विवेकानंद की जयंती Didiji Foundation celebrated the birth anniversary of Swami Vivekananda

इस अवसर पर समाजसेवी मिथिलेश सिंह, रंजीत ठाकुर, करण रूद्र, अंजली, साक्षी रिया,दीपक, आसी, सलोनी,नेहा,स्वाति,राज कुमारी, आदित्य,समीर,प्रीति
सुनैना देवी,रश्मि भारती समेत कई अन्य लोग उपस्थित थे।