सोशल मीडिया प्लान को गतिशील बनावे-कलेक्टर

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>> कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा है कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप सोशल मीडिया प्लान को गतिशील बनाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जावे। साथ ही सोशल मीडिया की खबरो की मानीटरिंग की जाकर खबर से संबंधित विभाग से वास्तविक जानकारी लेकर सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर जानकारी भिजवाने की व्यवस्था की जावे। वे आज कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के सभागार में समय सीमा के प्रकरणों की समीक्षा बैठक के दौरान विभागीय अधिकारियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे।

 

कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि सोशल मीडिया प्लान के अंतर्गत अभी हाली ही 08 भैसे करंट से मरने की खबर मिली है। जिसकी पुष्टि विभागीय अधिकारी करें। खबर सही होने पर संबंधित को मुआवजा राशि देने की व्यवस्था सुनिश्चित की जावे। इस दिशा में पशु चिकित्सा एवं विधुत कंपनी के अधिकारी कार्यवाही सुनिश्चित करे। उन्होने कहा कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो की भी इसी प्रकार की खबरे कभी-कभी चलती रहती है। जिन पर कार्यवाही सीएमओ नगरपालिका और संबंधित क्षेत्र के सीईओ जनपद सुनिश्चित करे। साथ ही सोशल मीडिया पर चलने वाली खबरों को विभागीय अधिकारी देखे और उन पर समय रहतें कार्यवाही सुनिश्चित करें।

कलेक्टर ने कहा कि राजस्व विभाग के धारणा अभियान के क्रियान्वयन पर विधिवत कार्यवाही सुनिश्चित की जावे। साथ ही रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में रोजगार मेलो का आयोजन कराया जाकर बेरोजगार युवकों को रोजगार के अवसर देने की दिशा में कार्यवाही विभागीय अधिकारी समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत मनरेगा योजना में मजदूरों को रोजगार देने की दिशा में निरंतर कदम उठाये जावे। इसी प्रकार वृक्षारोपण के लिए आवंटित लक्ष्य को समय सीमा में पूर्ण करने की पहल की जावे। साथ ही 08 अगस्त के पौधा रोपण महा अभियान में अधिक से अधिक पौधे लगाये जावे। इसके अलावा एकलव्य योजना के अंतर्गत सीईओ जनपद कार्यवाही सुनिश्चित करें। साथ ही शासन निर्देशों का पालन किया जावे। उन्होने कहा कि पौधा लगाने के लिए विभिन्न विभागों को लक्ष्य आवंटित किया गया है। जिसकी पूर्ति समय सीमा में होनी चाहिए। इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जावे। साथ ही पौधा लगाने के लक्ष्य के अनुरूप की गई कार्यवाहियां एप पर डालने की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

कलेक्टर ने कहा कि अभयपुरा में कोविड के लिए शांतिधाम बनाया गया था। जिसमें पौधा रोपण किया जा सकता है। साथ ही अभयपुरा की शासकीय भूमि पर गौशाला बनाने के लिए भूमि आंवटित की जावे। उन्होने कहा कि क्षेत्रीय एसडीएम इस दिशा में निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को अंतिम रूप प्रदान करे। इसी प्रकार हस्तशिल्प विकास निगम कार्यालय पर बोर्ड लगाया जावे। इसी प्रकार के साइन बोर्ड सभी कार्यालय/संस्थाओं पर लगे होने चाहिए। इस कार्य का परिवेक्षण भी एसडीएम सुनिश्चित करे। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत जिले में अन्न उत्सव का आयोजन 07 अगस्त 2021 को किया जावेगा। इस कार्यक्रम को भव्य रूप देने की दिशा में हितग्राहियों के लिए थैला/बैग आदि की तैयार 05 अगस्त तक सुनिश्चित की जावे।

सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों का निराकण 07 दिवस में किया जावे
कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव ने टीएल बैठक में कहा कि सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत विभिन्न विभागो के अंतर्गत लेबल 01 से लेकर 04 तक शिकायते लंबित पडी हुई है। जिसमें जबाव फीड करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जावे। सीएम हेल्पलाइन में श्योपुर जिला 25वे नंबर पर है। जिसकों टॉप 10 जिलों की श्रेणी में लाने की दिशा में लंबित शिकायतें सात दिवस में निराकरण की जावे। उन्होने कहा कि सीएम हेल्पलाइन में कार्य नही करने वाले अधिकारियों को नोडल अधिकरी, सहायक संचालक सुश्री निकिता तामरे नोटिस जारी करने की कार्यवाही प्रस्तावित करे।
कलेक्टर ने कहा कि लोक सेवा प्रबंधन विभाग के मैनेजर  योगेश पुरोहित सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत ऐसे अधिकारी जिनका ट्रांसफर हो गया है। उनके नाम के स्थान पर नये अधिकारी का नाम फीड कराने की कार्यवाही सुनिश्चित करे। साथ ही मोबाइन नंबरों को भी अपडेट करने की व्यवस्था की जावे। सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत राजस्व की 445, नागरिक आपूर्ति की 322, नगरीय निकायों की 378, संस्थागत वित्त की 245, पीएचई की 279, जिला अस्पताल की 148, स्वास्थ्य विभाग से संबंधित 198 के अलावा अन्य विभागो में भी शिकायते लंबित है। जिनका निराकरण विभागाय अधिकारी समय पर करे।

अपर कलेक्टर  रूपेश उपाध्याय ने समय सीमा के प्रकरणों की समीक्षा बैठक में सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत लंबित शिकायतों की विभागवार जानकारी दी। साथ ही विभाग स्तर पर दर्ज शिकायतों को ऑनलाइन खोलकर फीड करने की व्यवस्था से अवगत कराया। इसी प्रकार विभागीय अधिकारियों द्वारा सीएम हेल्पलाइन में दर्ज किये जा रहे जबाव को देखा और संबंधित विभागीय अधिकारियों को शिकायत से संबंधित जबाव फीड करने की व्यवस्था बताई। इसी प्रकार वायुदूत एप में प्लाटेंशन का अपलोड करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये। साथ ही शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के अलावा विभिन्न विभगा के माध्यम से पौधा लगाने के लिए दिये गये लक्ष्य की पूर्ति करने के दिशा निर्देश भी दिये।

 

बैठक अपर कलेक्टर  रूपेश उपाध्याय, एसडीएम श्योपुर  विनोद सिंह, एसीईओ जिला पंचायत  सुधीर खाडेकर, कोषालय अधिकारी  मुन्ना खान, डीपीओ महिला बाल विकास  ओपी पाण्डेय, सहायक संचालक मछली पालन  बीपी झसिया, डीआईओ  कपिल पाटीदार, मेनेजर लोक सेवा प्रबंधन  योगेश पुरोहित, सहायक संचालक ओबीसी कु. निकिता तामरे एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।