बेरोजगारो को रोजगार देने में कोई कोर कसर नही छोडेगे-मुख्यमंत्री श्री चौहान

  श्योपुरDesk/ @www.rubarunews.com>>मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि स्वामी विवेकानन्द जी सदैव ही युवा के प्रेरणा स्त्रोत रहे है। आज उनके जन्मदिवस अवसर पर रोजगार दिवस का आयोजन पूरे प्रदेश किया जा रहा है। उन्ही के पदचिन्हों पर देश के प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी भी भारत का नाम विश्वभर में बढा रहे है। इसके अलावा केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा रोजगार दिलाने की दिशा में निरंतर कदम उठाये जा रहे है। जिनके अंतर्गत बेरोजगारों को रोजगार देने में कोई कोर कसर नही छोडी जावेगी। वे आज राज्य स्तरीय रोजगार/स्वरोजगार वुर्चअल कार्यक्रम को भोपाल से संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नौकरी पाने की जगह नौकरी देने की दिशा में बेरोजगार आगे बढें। जिससे लद्यु एवं बडे उद्योगों के अलावा अन्य बडे व्यवसाय डालने में सक्षम बन सकें। उन्होने कहा कि निजी व्यवसाय के माध्यम से अन्य व्यक्तियों को नौकरी देने वाले बन सकते है। उन्होने कहा कि नये व्यवसायों के लिए धन उपलब्ध कराने में कोई कोर कसर नही छोडी जावेगी। उन्होने कहा कि सरकारी नौकरी देने की दिशा में भी प्रदेश सरकार द्वारा कदम उठाये जा रहे है। जिनके अंतर्गत विभिन्न विभागों में भर्ती करने की कार्यवाही प्रारंभ की जा चुकी है। उन्होने कहा कि आजीविका मिशन के माध्यम से दीदीयों को भी लोन दिलाने की दिशा में कदम उठाये गये है। जिसके अंतर्गत 12 लाख स्वसहायता समूह क्रेडिट लिंक से जोडे गये है। उन्होने कहा कि छोटे-छोटे काम धंधो के लिए केन्द्र और राज्य सरकार रोजगार की दिशा में लाभान्वित किया जा रहा है। साथ ही बिना ब्याज के लोन देने की दिशा में भी कदम उठाये जा रहे है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री राशन योजना से भी लाभान्वित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज से शुरू हो रही उद्यम क्रांति योजना शुरू की गई है, जो स्वरोजगार की दिशा में लाभकारी सिद्ध होगी। उन्होने कहा कि बेरोजगार युवक केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओ का लाभ उठावे। उन्होने कहा कि प्रत्येक माह मे ंजिला, विकासखण्ड स्तर पर रोजगार मेलो का आयोजन किया जावेगा। जिनके माध्यम से क्षेत्रीय बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जावे।
केन्द्रीय कृषि मंत्री  नरेन्द्र सिंह तोमर ने कार्यक्रम को वुर्चअली संबोधित करते हुए कहा कि श्योपुर जिले में 04 हजार से अधिक हितग्राहियों कों स्वरेजगार एवं रोजगार मेले के माध्यम से लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में अभी तक तीन करोड लोगों को 01 लाख 86 हजार करोड रूपयें रोजगार स्थापित करने के लिए प्रदान किये गये है। उन्होने कहा कि आज का यह कार्यक्रम मप्र में रोजगार के क्षेत्र में परिवर्तनकारी साबित होगा। इस अवसर पर प्रदेश के उर्जा मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर द्वारा भी वर्चुअली संबोधित करते हुए प्रदेश के 05 लाख से अधिक हितग्राहियों को स्वरोजगार एवं रोजगार के लिए शुभकामनाएं दी।

जिला स्तरीय कार्यक्रम श्योपुर का कलेक्टर  शिवम वर्मा, सीईओ जिला पंचायत  राजेश शुक्ल, पूर्व विधायक  दुर्गालाल विजय एवं  बृजराज सिंह चौहान, पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष  अशोक गर्ग एवं डॉ गोपाल आचार्य, भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष श्रीमती सरोज तोमर, भाजपा के महामंत्री  गिरधारी बैरवा, उपसंचालक कृषि  पी गुजरे, डीपीएम एनआरएलएम  एसके मुदगल, महाप्रबधंक उद्योग  एसआर चौबे, एलडीएम  संतोष कैथवार सहित विभिन्न विभागो के अधिकारी, बैंकर्स, कंपनी प्रतिनिधि, पत्रकार, हितग्राही उपस्थित थे।

स्वामी विवेकानन्द के जन्मदिवस राष्ट्रीय युवा दिवस के उलक्ष्य में आयोजित रोजगार दिवस के अवसर पर जिला स्तरीय कार्यक्रम अंतर्गत श्योपुर जिलें में जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, उद्यानिकी विभाग, कृषि विभाग, मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, नगरपालिकाओं, खादी एवं ग्रामोद्योग, हथकरघा, पशुपालन आदि रोजगार मूलक विभागों द्वारा विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं तथा जिला रोजगार कार्यालय एवं शासकीय पीजी कॉलेज द्वारा आयोजित रोजगार मेले के माध्यम से 04 हजार हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया तथा 04 करोड रूपयें से अधिक की राशि का वितरण किया गया। निषादराज भवन में कोविड-19 गाइडलाइन के अनुरूप आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं में प्रतीकात्मक रूप से 15 हितग्राहियों को लाभ का वितरण किया गया।
जिला स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक  दुर्गालाल विजय ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम के माध्यम से श्योपुर जिले सहित पूरे प्रदेश में युवाओं को स्वरोजगार एवं रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये गये है। युवा राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। उन्होने स्वरोजगार एवं रोजगार से जुडने वाले युवाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अपने कैरियर को आगे बढाते हुए राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका निभाए। उन्होने कहा कि श्योपुर कृषि एवं वनोपज पर आधारित उद्योगों की अधिक संभावना है। इस क्षेत्र में धान, सरसो, गेहूं का विपुल उत्पादन होता है, वही वन क्षेत्र में अनेक प्रकार की जडीबुटी पाई जाती है। युवाओ के लिए इस क्षेत्र में काफी अवसर उपलब्ध है।
भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष एवं नगर परिषद बडौदा के पूर्व अध्यक्ष डॉ गोपाल आचार्य ने कहा कि प्रदेश की सरकार निरंतर युवाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार से जोडने के लिए कार्य कर रही है। आज बडे स्तर पर पूरे प्रदेश में रोजगार दिवस आयोजित कर लगभग 05 लाख लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है। श्योपुर में भी बडी संख्या में हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया है। उन्होने अपेक्षा की कि जिन युवाओं को जिस उद्योग या इकाई की स्थापना के लिए लोन मिला है, वह इस लागत को उपयोग इसी व्यापार में करते हुए अपने कारोबार को आगे बढाये।
भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष  अशोक गर्ग ने हितग्राहियों को बधाई देते हुए कहा कि श्योपुर जिलें में दो-तीन उद्योग ऐसे है, जो बडे उद्योगों की श्रेणी में आते है। संबंधित विभाग के अधिकारी इन बडे उद्योगों को स्थापित करनें में सहयोग प्रदान करें। जिससे ऐसे उद्योग लगने से अन्य लोगों को भी रोजगार मिल सकेगा। उन्होने कहा कि ऑयल मिल एवं राईज मिल जैसे उद्योग स्थापित किये जा सकते है।
इसके पूर्व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  राजेश शुक्ल द्वारा बताया गया कि श्योपुर जिलें में विभिन्न स्वरोजगार मूलक योजनाओं तथा रोजगार मेले के माध्यम से 04 हजार लोगों को लाभान्वित किया जायेगा तथा 04 करोड रूपये राशि के ऋण वितरण तथा बैंक लिकेंज का वितरण किया जायेगा। इस अवसर पर जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री एसआर चौबे द्वारा अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा स्वामी विवेकानन्द एवं महात्मा गांधी के चित्रों पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ। कार्यक्रम का संचालन व्याख्याता  सुशील दुबे द्वारा किया गया।
विभिन्न योजनाओं में मेले के माध्यम से 04 करोड का वितरण, कुल वितरण 08 करोड से अधिक
जिला स्तरीय कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम अंतर्गत 50 हितग्राहियो को 03 करोड़ 19 लाख, उद्यानिकी विभाग द्वारा 05 हितग्राहियो को 21.20 लाख, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा 11 हितग्राहियों को 56 लाख से अधिक, शहरी विकास अभिकरण (नगरपालिकाए) द्वारा पीएम स्वनिधि योजना, स्वरोजगार योजना तथा एनयूएलएम अतंर्गत स्वसहायता समूहो को सीसीएल योजना के तहत कुल 138 हितग्राहियों को 63 लाख से अधिक, कृषि विभाग द्वारा अनुदान योजनाओं में 06 हितग्राहियों को डेढ लाख रूपयें, मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत संचालित 1608 स्वसहायता समूहों को सीसीएल राशि का लाभ दिया गया। साथ ही मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना में 1524 हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया है। इसके अलावा पशुपालन एवं मत्स्य विभाग द्वारा भी हितग्राहियो को केसीसी प्रदान की गई। मंच पर प्रतीकात्मक रूप से प्रधानमंत्री सृजन कार्यक्रम अंतर्गत  मुकेश बैरवा को डीजे एवं लाइट साउंड के लिए 05 लाख,  कमलकिशोर ओझा को मोबाइल रिपयरिंग के लिए 03 लाख रूपयें, खादी ग्रामोद्योग अतंर्गत पीएमईजीपी में  भैरूलाल मालीपुरा को शटरिंग कार्य के लिए 03 लाख रूपये, उद्यानिकी विभाग द्वारा श्रीमती मथुरादेवी बडौदा को शैडनेट हाउस निर्माण के लिए 14 लाख 20 हजार रूपयें आदि कुल 15 हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया। जबकि अभी तक विभिन्न योजनाओं में 05 हजार 516 हितग्राहियों को 09 करोड 51 लाख 86 हजार रूपयें स्वीकृत कर 08 करोड 40 लाख 47 हजार रूपयें का हित लाभ दिया जा चुका है।
रोजगार मेले में इन कंपनियों की रही भागीदारी, 459 ऑफर लेटर
जिला रोजगार एवं शासकीय पीजी कॉलेज के तत्वाधान में आयोजित रोजगार मेले में  459 युवाओ को विभिन्न कंपनियों द्वारा ऑफर लेटर प्रदान किये गये। 1873 युवाओं का प्राथमिक रूप से चयन किया गया है। योग्यतानुसार प्लेसमेंट करने के लिए देविका सिक्योरिटी देवास, आईपीएस इंटरप्राइजेज देवास, एड स्कील, देवियानी ऑर्गेनिक किसान देवास, जीफोरएस सिक्योरिटी गुजरात, एलआईसी श्योपुर, जन शिक्षण संस्थान श्योपुर, मौजेक वर्क स्कील, ईगल सिक्योरिटी शिवपुरी, रोम कम्प्युटर अकाउंट एजुकेशन ग्वालियर, गुरूकृपा कन्सलटेन्सी शिवपुरी सहित अन्य कंपनियों द्वारा भाग लिया गया। इसके अलावा जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, उद्यानिकी, कृषि, मत्स्य, पशुपालन, एनआरएलएम, आदिम जाति कल्याण विभाग आदि विभागों सहित बैंकर्स द्वारा अपने स्टॉल लगाकर हितग्राही मूलक योजनाओं की जानकारी प्रदान की गई। मेला स्थल पर शासकीय पीजी कॉलेज की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई तथा आईटीआई श्योपुर द्वारा पंजीयन करने की सुविधा उपलब्ध कराई गई।
अतिथियों ने किया विभागीय स्टॉलों का अवलोकन
जिला स्तरीय कार्यक्रम के दौरान अतिथियों द्वारा विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनीयों का अवलोकन किया। साथ ही स्टॉलों में पहुंचकर विभाग द्वारा योजनाओं और विकास कार्यो के प्रदर्शन की जानकारी ली। इस दौरान अतिथियों द्वारा रोजगार मेले में प्लेसमेंट के लिए आई कंपनियों के स्टॉलों का अवलोकन भी किया गया।