भू-माफिया और दबंगों से मुक्त करवाई गई भूमि पर गरीबों के लिये बनेंगे आवास – मुख्यमंत्री श्री चौहान Houses will be built for the poor on the land freed from land mafia and bullies – Chief Minister Shri Chouhan

भोपाल.Desk/ @www.rubarunews.com>>नव वर्ष में जनवरी माह से विशेष अभियान संचालित कर आवासहीन गरीब लोगों को रहने के लिए जमीन दी जाएगी। भू-माफिया और दबंगों से मुक्त करवाई गई भूमि पर गरीबों को आवास बना कर देने का यज्ञ भोपाल नीलबड़ से प्रारंभ हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्राम में जिनके पास रहने के लिए भू-खंड नहीं है, उन्हें 4 जनवरी, 2023 से प्रारंभ किये जा रहे अभियान में प्राप्त आवेदनों के आधार पर नि:शुल्क आवासीय पट्टा प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री आवासीय भू- अधिकार योजना में रिक्त भूमि निर्धन वर्ग को आवंटित की जाएगी। हुजूर क्षेत्र भी इससे लाभान्वित होगा। शहरी क्षेत्र में जो जहाँ रह रहे हैं और जो पुराने कब्जाधारी हैं, उनको पक्का मकान बना कर देने की योजना भी प्रारंभ की जाएगी।

भू-माफिया और दबंगों से मुक्त करवाई गई भूमि पर गरीबों के लिये बनेंगे आवास – मुख्यमंत्री श्री चौहान Houses will be built for the poor on the land freed from land mafia and bullies – Chief Minister Shri Chouhan

भू-माफिया से 40 एकड़ भूमि मुक्त कराई

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नीलबड़ क्षेत्र में गरीबों के आवास के लिए भूमि-पूजन कर आज के दिन को ऐतिहासिक बना दिया। भोपाल नगर निगम द्वारा प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना में गरीब और आवासहीन लोगों के लिए लगभग 60 करोड़ रूपये की लागत से घर बनाए जायेंगे। जिला प्रशासन द्वारा ग्राम कलखेडा तहसील हुज़ूर में 40 एकड़ भूमि भू-माफिया के अतिक्रमण से मुक्त करवाई गई थी। इस जमीन का बाजार मूल्य लगभग 100 करोड़ रूपये है। भू-माफिया इसरार खान, प्रताप राजवंश, श्याम सिरोनिया के विरूद्ध थाना रातीबड़ जिला भोपाल में विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर उन्हें जेल भेजने की कार्यवाही भी की गई थी। ये सभी 5 माह तक जेल में रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज नीलबड़ तिराहे

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज नीलबड़ तिराहे पर 215 करोड़ रूपये की लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नीलबड़ तिराहा पहुँचते ही माँ सिंह वाहिनी दरबार जाकर नमन किया। विधायक श्री रामेश्वर शर्मा, भोपाल नगर निगम अध्यक्ष श्री किशन सूर्यवंशी, भोपाल जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रामकुंवर गुर्जर, जन-प्रतिनिधि, समाजसेवी और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नीलबड़ के लिए आज का दिन ऐतिहासिक है। वे लोग जो सरकारी जमीनों पर कब्जा करते थे, दादागिरी और गुंडागर्दी करते थे, उनसे मुक्त कराई गई सरकारी जमीन पर अब गरीबों के मकान बनेंगे। इन व्यक्तियों ने एक या दो एकड़ नहीं हजारों एकड़ जमीन दबा रखी थी। दुर्भाग्य यह है कि पूर्व सरकार के लोग उन्हें प्रोत्साहित करते थे।

गुंडों और असामाजिक तत्वों से छुड़वाई 23 हजार एकड़ जमीन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हुजूर विधानसभा के नीलबड़ क्षेत्र में गुंडों और असामाजिक तत्वों से मुक्त कराई गई 40 एकड़ भूमि के लिये भोपाल जिला प्रशासन को बधाई दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अभी तक गुंड़ों और भू-माफियाओं से 23 हजार एकड़ शासकीय भूमि मुक्त कराई जा चुकी है। यह अभियान निरंतर चलेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जिन असामाजिक तत्वों ने जमीन दबा रखी है, उसे भी मुक्त करवाएंगे। पुलिस अधिकारियों को निर्देश हैं कि ऐसे असामाजिक तत्वों को नेस्तनाबूद कर दें। मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध कॉलोनियों को वैध करने की कार्रवाई कर बिजली, पानी जैसी बुनियादी सुविधाएँ दी जाएंगी। जन-कल्याण के कार्यों के लिए राज्य शासन के खजाने में कभी राशि की कमी नहीं होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान में भोपाल के प्रत्येक गाँव और वार्ड में शिविर लगे थे। भोपाल जिले में जो नए हितग्राही सामने आए हैं, उन्हें राशन, रसोई गैस कनेक्शन, आयुष्मान कार्ड जैसी 38 योजनाओं से लाभान्वित किया जायेगा। शीघ्र ही इन्हें योजनाओं का लाभ मिलना शुरू हो जायेगा। मध्यप्रदेश की सरकार गरीबों का कल्याण करने वाली सरकार है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जल जीवन मिशन से हुजूर क्षेत्र के 76 ग्राम में पेयजल योजना का लाभ मिलेगा। बेटियाँ और बहने दिन भर हैंडपंप पर पानी भरने जाती थी, उनके लिए यह सौगात है। अब पाइपलाइन बिछा कर पानी घरों तक पहुँचाया जाएगा। प्रदेश में बेटियों के सम्मान पर आँच पहुँचाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीब और मध्यम वर्ग विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा की फीस की व्यवस्था की जा रही है। हिंदी को बढ़ावा देने के लिए अनेक पाठ्यक्रम हिंदी में संचालित करने की पहल हुई है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हुजूर क्षेत्र के जनजाति बहुल ग्रामों में विकास के कार्य तेजी से होंगे और टंट्या मामा की प्रतिमा भी स्थापित की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में जन-कल्याण की क्रांति में आमजन से सहभागी बनने का आह्वान भी किया। उन्होंने हुजूर विधायक  रामेश्वर शर्मा द्वारा क्षेत्र विकास के लिये निभाई जा रही सक्रिय भूमिका की प्रशंसा की।

विधायक  रामेश्वर मिश्रा ने हुजूर क्षेत्र में किये जा रहे विकास कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में गरीबों के मकान बनाने के कार्य को प्राथमिकता से किया जाएगा। सिक्स लेन रोड के निर्माण से आमजन को लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आम जनता के लिए विनम्र और भले और असामाजिक तत्वों के लिए वज्र से भी अधिक कठोर हैं। हुजूर क्षेत्र में घर-घर पाइप लाइन से पेयजल पहुँचेगा। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही क्षेत्र के युवाओं के लिये विशाल सम्मेलन होगा, जिसमें मुख्यमंत्री श्री चौहान भी शामिल होंगे। श्री शर्मा ने कहा कि समाज के हर वर्ग के कल्याण को राज्य सरकार ने प्राथमिकता दी है। महापौर श्रीमती मालती राय ने आभार माना। कार्यक्रम का संचालन श्री पद्म भंडारी ने किया।

हुजूर क्षेत्र में आज हुआ इन विकास कार्यों का भूमि-पूजन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हुजूर क्षेत्र के लिए 215 करोड़ लागत की परियोजनाओं का भूमि-पूजन किया। इन कार्यों में 91 करोड़ रूपये की केरवा ग्रामीण पेयजल परियोजना, 60 करोड़ रूपये के प्रधानमंत्री आवास, 40 करोड़ रूपये की नीलबड़ से बड़झिरी तक 4 लेन सड़क और 24 करोड़ की अन्य सड़कों के निर्माण कार्य शामिल हैं। जल-जीवन मिशन में केरवा ग्रामीण पेयजल परियोजना से हुजूर के 76 गाँवों में हर-घर ‘नल से जल’ पहुँचाने का लक्ष्य है। योजना में भोपाल नगर निगम की सीमा से लगे हुए ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाले लगभग एक लाख लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने की पहल की गई है। योजना में 942 लाख लीटर प्रतिदिन क्षमता के जल शोधन संयंत्र का निर्माण केरवा बांध के पास किया जाएगा। कुल 14 उच्च स्तरीय टंकियों से लोगों को पीने का साफ पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। इसके अलावा इस क्षेत्र में 40 करोड़ रूपये की लागत से नीलबड़ से बड़झिरी तक 4 -लेन सड़क का निर्माण भी होगा।

प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री चौहान का नीलबड़ चौराहे पर आत्मीय स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान का ऐसे ग्राम जहाँ पेयजल योजना आएगी, वहाँ के निवासियों ने विशाल पुष्पहार से स्वागत किया।