मुनि सुधा सागर जी महाराज का जयकारों के बीच पुण्योदय अतिशय क्षेत्र नसियां जी दादाबाड़ी में मंगल प्रवेश

कोटा.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- मंगल गीत गीता महिलाएं, बैंडबाजों की धुन पर गूंजती स्वर लहरियां, सुधासागर जी के जयकारे लगाते श्रद्धालुगण और जुलूस के साथ चलते भक्तजन, जगह-जगह स्वागत द्वार और सुंदर आकर्षक रंगोली के बीच मुनिश्री का पादप्रक्षालन करते श्रद्धालु। सोमवार को कुछ इसी तरह का नजारा था सीएडी स्थित मोतीमहल तिराहे का। यहां से धार्मिक माहौल में पुण्योदय अतिशय क्षेत्र नसियां जी दादाबाड़ी में सुधासागर जी महाराज का ससंघ मंगल प्रवेश हुआ। मंगल प्रवेश शोभायात्रा जुलूस में शामिल श्रद्धालु जैन धर्म के जयघोष से वातावरण को धर्ममय बना रहे थे, चारों ओर भक्ति रस झलक रहा था।

सीएडी सर्किल स्थित मोतीमहल तिराहे पर सकल दिगम्बर जैन समाज समिति के पदाधिकारियों एवं पुण्योदय अतिशय क्षेत्र के निदेशक हुकम जैन काका, नसिया जी मंदिर के अध्यक्ष जम्बू जैन सर्राफ, महामंत्री महेन्द्र कासलीवाल के नेतृत्व में महिलाओं व पुरूष श्रद्धालुओं ने सुधासागर जी महाराज की अगवानी की। मार्ग में जगह-जगह पर अगवानी व पाद प्रक्षालन के लिए श्रावक-श्राविकाओं में होड़ सी लगी रही।

पुण्योदय अतिशय क्षेत्र नसियां जी के निदेशक हुकम जैन काका ने बताया कि इस दौरान संतों के स्वागत के लिए 51 स्वागत द्वार एवं जगह-जगह रंगोलियां भी सजाई गई थी। जैसे ही जुलूस नसियां जी मंदिर के मुख्य द्वार पर पहुंचा तो वहां इंतजार कर रहे श्रद्धालु भाव विभोर हो उठे व मंदिर कमेटी के पदाधिकारियों व महिलाओं ने मुनिसंघ की अगवानी पग प्रक्षालन व आरती कर की। इसके बाद मुनिसंघ मुख्य मंदिर में पहुंचा। मंदिर में प्रवेश के साथ ही सुधासागर जी महाराज ने बड़े बाबा मूलनायक आदिनाथ भगवान के दर्शन किये। इस दौरान महाराज जी ने अपने मुखारबिन्द से शांतिधारा के मंत्रों का उच्चारण किया व भक्तजनों ने बोलियों के माध्यम से न्यौछावर राशि अर्पित कर भगवान का अभिषेक व शांतिधारा की। तत्पश्चात मुनिश्री के प्रवचन हुए। अध्यक्ष जम्बू जैन सर्राफ ने बताया कि मंदिरजी में प्रतिदिन सुबह 8.30 से 10 बजे तक मुनिश्री के प्रवचन होंगे।
इस दौरान पुण्योदय अतिशय क्षेत्र के निदेशक हुकम जैन काका, अध्यक्ष जम्बू जैन सर्राफ, महामंत्री महेन्द्र कासलीवाल, धर्मचन्द जैन, सुनील नगेदा, अनिल जैन, सुनील मड़िया, वीरेन्द्र जैन, सुशील नगेदा, श्रीमती अर्चना दुगेरिया, श्रीमती सुनीता दुगेरिया, श्रीमती बीना जैन समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।