श्रमिकों की मांग के अनुसार श्रम नियोजन किया जाए-सीईओ

बून्दी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com-  ग्रामीण विकास एवं पचायतीराज विभागीय योजनाओं में प्रगति की समीक्षा बैठक गुरूवार को जिला परिषद स्थित कक्ष में मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुरलीधर प्रतिहार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। इस दौरान उन्होंने प्रभारी अधिकारियों से योजनावार प्रगति की विस्तृत समीक्षा की तथा आवश्यक निर्देश दिए।
उन्होंने निर्देश दिए कि श्रमिको की मांग के अनुसार श्रम नियोजन किया जाए। वर्ष 2019-20 तक के अपूर्ण कार्यो को पूर्ण कराने के निर्देश दिए। मनरेगा योजनान्तर्गत चल रहे कार्यो का विशेष सघन निरीक्षण कराया जाए।

सीईओ प्रतिहार ने निर्देश दिए कि ठोस एवं तरल कचरा संसाधन प्रबंधन हेतु तैयार की गई डीपीआर को अविलम्ब संशोधन करवाकर स्वीकृतियां जारी करवाने हेतु सहायक विकास अधिकारी,जिला परिषद सम्बंधित पंचायत समितियों में 2 जुलाई को उपस्थित होकर कार्य करवाए, कचरा संग्रहण केन्द्र हेतु जगह का अलाॅटमेंट करवाकर कार्य प्रारम्भ करवाएं। प्रत्येक ग्राम पंचायत में दो-दो सामुदायिक स्वच्छता काॅम्पलेक्स निर्माण हेतु मंगवाया जाकर कार्य स्वीकृत किए जाए।
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कार्यो में तेजी लाई जाए। आरटीआई व जाॅच प्रकारणों को सर्वोच्च प्राथमिकता से उच्चाधिकारियों के ध्यान में लाकर सुनियोजित निस्तारित किया जाए।

इस दौरान वाटरशेड के अधीक्षक अभियन्ता सी.एल.सालवी, नरेगा एक्सईएन प्रियव्रत सिंह, इंजिनियरिं के जितेन्द्र कुमार न्याती, लेखाधिकारी पंचायती राज शिव कुमार शर्मा, नरेगा के रामनारायण मीणा, सामाजिक अंकेक्षण के चन्द्र प्रकाश राव, सहायक विकास अधिकारी संतोष गोपाल सिंह, राज्यपाल सिंह, कमलेश शर्मा आदि मौजूद रहें।