16 सितम्बर को आयोजित होने वाला अन्न उत्सव पूरी गरिमा के साथ मनें – कलेक्टर

दतिया से प्रशांत गुप्ता की रिपोर्ट

दतिया@rubarunews.com  कलेक्टर संजय कुमार ने समय सीमा के पत्रों के निराकरण के साथ राज्य सरकार के प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों एवं योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि 16 सितम्बर को सम्पूर्ण प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा मनाये जाने वाले ”अन्न उत्सव” का आयोजन पूरी गरिमा के साथ आयोजित हो।

कलेक्टर संजय कुमार ने नवीन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सोमवार को आयोजित समय सीमा के पत्रों की समीक्षा बैठक के दौरान उक्ताश्य के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अतेन्द्र सिंह गुर्जर, अपर कलेक्टर विवेेेक रघुवंशी सहित जिला अघिकारीगण उपस्थित थे।
कलेक्टर संजय कुमार ने समय सीमा के पत्रों की समीक्षा करते हुए कहा कि 16 सितम्बर को राज्य सरकार द्वारा अन्न उत्सव का आयोजन सम्पूर्ण प्रदेश में किया जा रहा है। जिले में यह आयोजन पूरी गरिमा के साथ आयोजित हो। इस दिन उचित मूल्य की दुकानों पर आयोजित होने वाले उत्सव में सभी पात्र हितग्राहियों को पात्रता पर्ची प्रदान करने के साथ राशन का वितरण भी शुरू किया जायेगा।

जिले में अन्न उत्सव पर खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत् 12 हजार से अधिक गरीब परिवारों को पात्रता पर्ची एवं खाद्यान का वितरण किया जायेगा। जिसकी सभी तैयारियां भी सुनिश्चत कर ली जाए। कलेक्टर ने बताया कि 16 सितम्बर से ही गरीब कल्याण अभियान भी शुरू किया जायेगा। जिसके तहत् प्रतिदिन प्रत्येक विभाग द्वारा अलग-अलग गतिविधियां आयोजित की जायेगी जो 25 सितम्बर तक आयोजित होगी। अतः संबंधित विभाग अभी से तैयारियां सुनिश्चत करें। इन कार्यक्रमों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित करें।

 

अधिकारी गांव में रहने वाले अंतिम व्यक्ति को ध्यान में रखकर योजनाओं का क्रियान्वयन करें

कलेक्टर संजय कुमार ने विभागवार समय सीमा के पत्रों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने कार्य प्रणाली में सुधार लाते हुए कार्य संस्कृति विकसित करें। वरिष्ठ कार्यालय एवं जनप्रतिनिधियों से प्राप्त होने वाले पत्रों को भी पूरी तरह से परीक्षण कर समय सीमा में उत्तर भेजना सुनिश्चत करें। किसी भी स्थिति में प्राप्त पत्रों को लंबित न रखें। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि गांव के अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति को ध्यान में रखकर योजनाओं का क्रियान्वयन करें। इसके लिए ग्रामीण क्षेत्रों का अधिक से अधिक भ्रमण करंे। भ्रमण के दौरान गांव के अति गरीब व्यक्तियों से चर्चा कर योजनाओं के क्रियान्वयन के साथ-साथ योजनाओं का लाभ दिलाये तथा उनकी समस्याओं का भी निदान करें।

कलेक्टर ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि दतिया जिले की एनआईसी बेवसाईट पर उनके विभाग द्वारा बेहतर किए गए कार्यो एवं उल्लेखनीय उपलब्धियों को भी अपलोड करें। जिससे जन सामान्य जिले के बारे में जानकारी हासिल कर सकेगा। उन्होंने जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके जनपद की ऐसी ग्राम पंचायतें जिनके द्वारा अस्पृश्यता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया गया है। उन्हें चिन्हित कर उनके नाम जिला कार्यालय को भेजे जाए जिन्हें गणतंत्र दिवस के समारोह में सम्मानित किया जा सके।