हर व्यक्ति के दर्द को दूर करने की चाह रखते थे चक्रधारी

श्योपुर.desk/@www.rubarunews.com>> किसान नेता चतुर्भुज चक्रधारी ने अपने जीवन में केवल संघर्षपूर्ण कार्यों को हाथों में  लेकर उसे सफलतापूर्वक अंजाम दिया, उनकी सह्रदयता और सरलता ने उन्हें हर किसी का कायल बना दिया और वे जीवन के अंतिम दिनों तक समाजिक गतिविधियों में संलग्न रहे, उन्होंने 82 वर्ष की उम्र में भी युवा की तरह काम किया, उनके जीवन से सभी को प्रेरणा लेने की जरूरत है। यह बात किसान नेता चतुर्भुज चक्रधारी के ह्रदयगति रूकने के कारण असमय मौत होने के बाद श्रीराम धर्मशाला में आयोजित श्रृद्धांजलि सभा में उनके सम्मान में व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा। प्रारम्भ में स्व.चक्रधारी जी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन कर श्रृद्धांजलि सभा का शुभारम्भ किया गया। सम्बोधित करते हुए वरिष्ठ भाजपा नेता कैलाशनारायण गुप्ता ने कहा कि चतुर्भुज चक्रधारी ने शिक्षाकाल से ही समाज में अच्छे कार्यों को करने के लिए आगे बढकर काम किया वे हर आम और खास के लिए हमेशा तैयार रहते थे, वहीं कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रभक्त युवा सगठन के संरक्षक विवेक भारद्वाज ने कहा कि श्री चक्रधारी जी इतने सरल और सौम्य व्यक्तित्व के धनि थे कि हर किसी के साथ हर समय तैयार रहते थे। इस मौके पर राष्ट्रीय किसान संघ के संगठन मंत्री कुबेर सिंह, पूर्व नपाध्यक्ष डाॅ. गोपाल आचार्य, धर्मसिंह चैधरी समेत बडी संख्या में किसान नेताओं ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन संगठन के जिलाध्यक्ष संजय मंगल ने किया।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com