स्वसहायता समूहो द्वारा निर्मित डलिया कर रही है सभी को आकर्षित

श्योपुर.Desk/@www.rubarunews.com-श्योपुर जिले में आयोजित होने वाले शासकीय कार्यक्रम एवं आयोजनों में उपस्थित अतिथियों को मप्र ग्रामीण मिशन के माध्यम से गठित किये गये महिला स्वसहायता समूहो द्वारा तैयार की गई, डलिया (गिफ्ट पैक) सभी को आकर्षित करने में सहायक बन रही है।
कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल के निर्देशन में मप्र डे-ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से गठित किये गये महिला स्वसहायता समूहों के माध्यम से दैनिक जीवन में उपयोग में आने वाली सामग्री के उत्पाद बनाने की कार्यवाही निरंतर जारी है। जिसमें स्वसहायता समूहो की महिलाओ को वाॅशिग पाउडर, साबुन, हेण्डवाॅश, फिलाइल, सेनेट्री नेपकिन, टायलेट क्लिनर, अगरबत्ती, डिश वाॅश का प्रशिक्षण दिया जाकर डलिया (गिफ्ट पैक)  बनाने की कार्यवाही शुरू की गई है।
महिला स्वसहायता समूहो द्वारा तैयार की गई, सामग्रियो में विभिन्न प्रकार के उत्पाद जैसे चप्पल, शर्ट, पेंट, पेटीकोट, मेंहदी, झाडू, डलिया, इत्यादि सामग्री बनाकर न सिर्फ बाजार में बेची जा रही है बल्कि सक्रिय महिला सीआरपी द्वारा निर्मित सामग्री का उपयोग अनिवार्य किया गया है। इस कार्य का पर्यवेक्षण डीपीएम ग्रामीण आजीविका मिशन श्री सोहनकृष्ण मुदगल द्वारा नियमित रूप से किया जा रहा है। महिला स्वसहायता समूहो की दीदीओ द्वारा विभिन्न प्रकार की सामग्री तैयार करने के काफी रूचि दिखाई जाकर, तैयार सामग्री को बाजार में बेचकर मुनाफा कमाया जा रहा है। जिससे स्वसहायता समूह आर्थिक तरक्की की दिशा में आग्रसर हो रहे है।
डीपीएम मप्र डे-ग्रामीण आजीविका मिशन  एस के मुदगल ने बताया कि विभिन्न शासकीय कार्यालय, शिक्षण संस्थाओं में महिला स्वसहायता समूहो द्वारा तैयार की जाने वाले सामग्री को उचित मूल्य पर प्रदान करने की कार्यवाही निरंतर जारी है। महिला स्वसहायता समूहो द्वारा आम आदमी की रोजमर्ररा में उपयोग आने वाली सामग्री का (गिफ्ट पैक) आयोजित शासकीय बैठक एवं कार्यक्रमों में सभी को आकर्षित करने में सहायक बन रहा है।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com