संभागीय आयुक्त ने टेल पर जाकर किया नहरों का निरीक्षण किसानों से रूबरू होकर नहरी पानी के सप्लाई का लिया फीडबैक

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-  संभागीय आयुक्त कैलाश चंद्र मीणा ने रविवार को चंबल सिंचित क्षेत्र में अंतिम छोर पर किसानों के खेतों में मिल रहे सिचाई के पानी का मौका निरीक्षण किया तथा किसानों से रूबरू होकर रबी फसलों में सिंचाई के पानी के बारे में फीडबैक लिया।
संभागीय आयुक्त ने बूंदी जिले में लबान माइनर से लेकर माखीदा तक नहर के टेल क्षेत्र का निरीक्षण कर सिंचाई के लिए दिए जा रहे पानी के बारे में जानकारी ली तथा मौका निरीक्षण कर अंतिम छोर तक के किसान को निर्बाध रूप से लगातार सिंचाई का पानी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चंबल सिंचित क्षेत्र में अंतिम छोर तक सभी टेलों पर किसानों को सिंचाई का पानी निर्बाध रूप से मिले यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने सिंचाई के पानी की छीजत रोकने के लिए अधिकारियों को निरंतर मॉनिटरिंग करने तथा नेहर पर लगातार भ्रमण कर किसानों से संवाद कायम रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक किसान को उसकी फसल के अनुसार सिंचाई का पानी उपलब्ध हो सके यह सुनिश्चित किया जाए। जल वितरण समितियों के पदाधिकारियों एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भी लगातार संपर्क में रहकर नहरी पानी के संबंध में आने वाली समस्याओं का समय पर निराकरण किया जाए। उन्होंने अधीक्षण अभियंता को यह निर्देश दिए कि बूंदी, के पाटन, डाबर, इटावा, भदाना एवं सुल्तानपुर टेल पर पानी की उपलब्धता निर्बाध रूप से रहे।
किसानों से हुए रुबरु निरीक्षण के दौरान संभागीय आयुक्त ने क्षेत्र के स्थानीय किसानों, जल वितरण समितियों के पदाधिकारियों से भी मुलाकात की तथा चंबल सिंचित क्षेत्र में सिंचाई के लिए पानी की उपलब्धता के बारे में फीडबैक लिया। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि अंतिम छोर पर बैठे प्रत्येक किसान के खेत में सिंचाई के लिए आवश्यक पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने किसानों को सिचाई पानी का महत्व देखते हुए नहरी जल का अनावश्यक दोहन नहीं करने तथा प्रत्येक किसान को आपसी समन्वय से सिंचाई का पानी उपलब्ध कराने में सहयोग करने का आह्वान किया। इस दौरान अधीक्षण अभियंता, अधिशासी अभियंता एवं सहायक अभियंता गण उपस्थित रहे।

कायाकल्प अवार्ड समारोह में भिण्ड जिला अस्पताल को मिला द्वितीय स्थान

क्षय रोग से पीडित मरीजो का निरंतर उपचार किया जावे-कलेक्टर

कोविशिल्ड वैक्सीन की पहली खेप रवाना

दतिया मृत कौआ के नमूने में बर्डफ्लू स्ट्रैन एच-5 की पुष्टि