विश्व पर्यटन दिवस पर प्राचीन स्मारकों का किया अवलोकन

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-  विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर  जिले के पुरामहत्व के संरक्षित स्मारकों पर पर्यटको ने भ्रमण एवं अवलोकन किया। इस अवसर पर सुबह 84 खंभों की छतरी पर पर्यटन विभाग तथा पुरातत्व विभाग की ओर से श्रमदान कर स्थल को स्वच्छ बनाया गया। यहां दोनों विभागों एवं इनसे जुड़े व्यक्तियों ने श्रमदान किया। इस अवसर पर संरक्षित स्थलों को आमजन के प्रवेश के लिए निशुल्क रखा गया था। बूंदी एवं आसपास के स्थानों से लोगों ने यहां आकर स्मारकों का अवलोकन कर पर्यटन का आनंद लिया।
विश्व प्रसिद्ध संरक्षित स्मारक रानी जी की बावड़ी तथा सुख महल एवं संग्रहालय में सर्वाधिक पर्यटक आए, 84 खंभों की छतरी पर भी दिन भर चहल-पहल बनी रही।
कोरोना से बचने का दिया संदेश
विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा शहर के प्रमुख संरक्षित स्मारक सुख महल एवं रानी जी की बावड़ी में कोरोना से बचाव की जानकारी देने के लिए जागरूकता प्रदर्शनी लगाई गई। इस प्रदर्शनी में विशेष रुप से मास्क पहनने की अनिवार्यता को दर्शाया गया। घर से बाहर जाने पर मास्क अनिवार्य रूप से पहनने का संदेश दिया गया। साथ ही आवश्यक दूरी बनाने, सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकने, बार-बार हाथ धोने तथा सैनिटाइज करने सहित कोरोना से बचाव के अन्य संदेश भी दिए गए। आमजन ने पर्यटन स्थलों के भ्रमण के साथ-साथ इस प्रदर्शनी को भी रुचि पूर्वक देखा। इस अवसर पर पर्यटन से जुड़े व्यक्तियों के लिए कोटासे वेबीनार का आयोजन भी किया गया।
विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर रविवार को 448 पर्यटकों ने पर्यटक स्थलों का अवलोकन किया। राजकीय संग्रहालय, बूंदी में 142, सुख महल में 142, रानी जी की बावड़ी में 137 तथा 84 खंभों की छतरी का 27 पर्यटकों ने अवलोकन किया।