पुलिस कर्मियों सर्वसुविधा युक्त आवास उपलब्ध कराएं जाएंगे – मंत्री डाॅ. मिश्रा

दतिया @rubarunews.com>>>>>>   मध्यप्रदेश शासन के गृह, जेल, संसदीय कार्य एवं विधि विधायी मंत्री डाॅ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पुलिस कर्मी दिन-रात लगन एवं मेहनत के साथ कार्य स्थल पर उपस्थित रहकर अपनी सेवाएं देते हैं। पुलिस कर्मियों को आवास की किसी प्रकार समस्या ना हो इसके लिए पुलिस कर्मियों केा सर्वसुविधा युक्त आवास उपलब्ध कराए जाएंगे।

 

गृह एवं जेल मंत्री डाॅ. नरोत्तम मिश्रा गुरूवार को दतिया में पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों (आरक्षकों) के लिए मुख्यमंत्री पुलिस आवास योजना के तहत लगभग 42 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले 168 दस मंजिला आवास भवनों के शिलान्यास कार्यक्रम केा मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र बुधोलिया, पूर्व विधायक प्रदीप अग्रवाल, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अजय शर्मा, पुलिस महानिरीक्षक (चबंल) मनोज शर्मा, डीआईजी राजेश हिगड़ेकर, कलेक्टर संजय कुमार,पुलिस अधीक्षक गुरूकरण सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्य, मध्य प्रदेश पुलिस आवास एवं अधोसंरचना विकास निगम के अधिकारीगण विशेष रूप से उपस्थित रहे।

गृह एवं जेल मंत्री डाॅ. मिश्र ने आवासीय भवनों के शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पुलिस विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी दिन रात 15 से लेकर 20 घंटे तक लगातार खड़े होकर, सर्दी, गर्मी एवं बरसात के मौसम में अपनी सेवाएं देतेे हैं। लेकिन इन्हें आवास की सुविधा नहीं हेाने के कारण परिवार को रखने में काफी परेशानी होती है। इस परेशानी को ध्यान में रखते हुए जिले के सभी पुलिस कर्मियों केा बेहतर सर्वसुविधा युक्त आवास उपलब्ध कराए जाएंगे। इसी कड़ी में आज लगभग 42 करोड़ की लागत से बनने वाले दस मंजिला बहु इमारत का शिलान्यास किया गया। जिसमें 168 आवास गृहों में से 24 आवास गृह राजपत्रिक अधिकारियों के लिए जबकि 144 आरक्षकों के लिए आवास गृहों को निर्माण किया जाएगा। इन आवासों केा निर्माण कार्य 2 वर्ष के अंदर पूर्ण कराने के निर्माण एजेंसी को निर्देश दिए।

 

डाॅ. मिश्र ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा केारोना के संक्रमण केा रोकने के साथ चिकित्सों, नर्सेस एवं स्वास्थ्य कर्मियों ने अपनी जान की परवाह किए बिना लगन मेहनत के साथ केारोना मरीजों को बेहतर सुविधाएं सेवाएं कराई। वहीं लाॅकडाउन के दौरान पुलिस कर्मियों द्वारा भी कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन कराकर सराहनीय कार्य किया। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान गरीब परिवारों केा खाद्यान्न वितरण के दौरान भी पुलिस कर्मियों केा पूर्ण सहयोग रहा।

 

कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अजय शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री पुलिस आवास योजना के अंतर्गत इन आवासों का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बहु मंजिला 168 आवा स गृहों में राजपत्रिक अधिकारियों के लिए 24 आवासों का एक ब्लाॅक रहेगा, जबकि 144 आरक्षक आवासों के लिए दो ब्लाॅकों का निर्माण किया जाएगा।

 

राजपत्रिक आवास गृहों का निर्माण 889 वर्गफुट क्षेत्रफल में, जबकि आरक्षक आवासों का 704 वर्गफुट क्षेत्रफल में रहेगा। इन आवासों में डायनिंग रूम, लिविंग रूम, दो बेडरूम, बालकनी, रसोईघर, टाॅयलेट एवं बाॅसएरिया का भी प्रावधान रखा गया है। इन आवास गृहों में प्र्याप्त हवा एवं सूर्य की रोशनी का भी प्रावधान रखा गया है। ये आवास भवन आधुनिक शैली एवं उच्च गुणवत्ता को ध्यान में रखकर निर्माण किया जाएगा। इन आवासीय परिसरों में एक पुस्तकालय का भी निर्माण कराया जाकर इन आवास गृहों को एक पुलिस आवासीय परिसर के रूप में विकसित किया जाएगा

 

इस दौरान विक्रम सिंह बुंदेला, योगेश सक्सेना, प्रशांत ढेगुला, पुष्पेन्द्र रावत, पंकज गुप्ता, बृजेश यादव, विनय यादव, मुकेश यादव, अतुल भूरे चैधरी, आकाश भार्गव, डाॅ. रामजी खरे, श्रीमती कुमकुम रावत, नेहा रजक सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।