चम्बल में क्रूज चलाने को तैयार शिपिंग मंत्रालय

नई दिल्ली.Desk/ @www.rubarunews.com- चंबल नदी में क्रूज का सपना जल्द पूरा हो सकता है। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में जहाजरानी राज्य मंत्री मनसुख मंडविया ने अधिकारियों को फेरी चलाने के निर्देश देते हुए डीपीआर तैयार करने को कहा है।
चम्बल नदी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए जानी जाती है। टाइगर रिजर्व स्थापित होने के बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला कोटा को जंगल सफारी के साथ-साथ वाॅटर सफारी के लिए भी मुफीद बनाने के प्रयास कर रहे हैं। इसी संबंध में उन्होंने जनवरी में जहाजरानी मंत्रालय को चम्बल नदी में क्रूज चलाने के लिए कहा था। इस पर मंत्रालय ने फरवरी में प्रारंभिक सर्वे किया था। लेकिन इसके बाद लाॅकडाउन के चलते काम गति नहीं पकड़ सका।
लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने बुधवार को इस मामले में जहाजरानी मंत्री मनसुख मण्डविया के साथ बैठक की। प्रारंभिक सर्वे की पाॅजीटिव रिपोर्ट के देखते हुए मण्डविया ने अधिकारियों को चंबल में फेरी चलाने के निर्देश देते हुए मंत्रालय के स्तर पर ही डीपीआर तैयार करने को कहा है ताकि प्रक्रिया में ज्यादा देरी नहीं लगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए राज्य सरकार के स्तर पर भी जो स्वीकृतियां प्राप्त की जानी है, उसकी प्रक्रिया भी तेजी से पूरी करें।
कोटा बैराज से जवाहर सागर तक क्रूज
प्रारंभिक सर्वे में कोटा बैराज से जवाहर सागर तक क्रूज के लिए उपयुक्त माना गया है। कुल 30 किमी लम्बे क्रूज में कोटा बैराज, गढ़ पैलेस, हैंगिग ब्रिज, कोटिया भील का महल, गेपरनाथ, गरडिया महादेव जैसे दर्शनीय स्थलों को शामिल किया जाएगा।