कोई भी बच्चा पोलियो की दवा पिलाने से वंचित नहीं रहे – सीईओ

श्योपुर ,rubarudesk/@www.rubarunews.com>>जिला पंचायत के सीईओ  हर्ष सिंह की अध्यक्षता में राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान 19-21 जनवरी 2020 के अतंर्गत जिले के 0 से 5 वर्ष तक के बच्चो को दवा पिलाने के संबध में जिला टाॅस्ट फोर्स समिति की बैठक आज कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के सभागार में आयोजित की गई।

बैठक में एसडीएम श्योपुर  रूपेश उपाध्याय, कराहल  विजय यादव, वीसी में विजयपुर एसडीएम  त्रिलोचन गौड, सीएमएचओ डाॅ एआर करोरिया, डब्ल्यूएचओ के मेडिकल आफीसर  अमित गंभीर, कोषालय अधिकारी  मुन्ना खान, महिला बाल विकास अधिकारी  ओपी पाण्डेय,एलडीएम  सुरेन्द्र पाठक, डीआईओ  कपिल पाटीदार, जिला पं्रबधक लोक सेवा  योगेश पुरोहित, ई-गर्वेनस के जिला प्रंबधक  रामकिकर शर्मा, उपसंचालक कृषि  पी गुजरे, जिला आबकारी अधिकारी  योगेश कम्ठान, क्षेत्र संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग  एमपी पिपरैया, स्वास्थ्य विभाग के डीपीएम  सोमित्र बुधोलिया, जिला युवा समन्वयक नेहरू युवा केन्द्र  विनोद चतुवेदी एवं विभिन्न विभागो के जिला अनुभाग एवं तहसील स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

सीईओ जिला पंचायत  हर्ष सिहं ने बैठक में कहा कि पल्स पोलिया अभियान एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। वैसे तो भारत पोलियो मुक्त घोषित हो चुका है, किन्तु हमें अभी भी सावधानी की आवश्यकता है, क्योंकि हमारे पड़ौसी देश आज भी पोलियो मुक्त घोषित नहीं हुए है। उन्होने कहा कि पल्स पोलिया अभियान के अंतर्गत जिले में स्थापित सभी पोलियों बूथों पर 19 जनवरी 2020 को 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों को दवा पिलाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जावेगी। उन्होने कहा कि अगर कोई बच्चा इस तिथि को दवा पीने से वंचित रहता है, तब उसको 20-21 जनवरी 2020 को घर-घर जाकर दवा पिलाने की व्यवस्था की जावेगी। इस दिशा में सीएमएचओ डाॅ एआर करोरिया समय रहते कार्यवाही सुनिश्चित कराये।

जिला पंचायत के सीईओ  हर्ष सिहं ने कहा कि इस अभियान के अंतर्गत कोई भी बच्चा दवा पिलाने से वंचित नहीं रहे। इस दिशा में सभी प्रकार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जावे। उन्होंने कहा कि राजस्व, स्वास्थ्य शिक्षा, महिला बाल विकास और एनजीओ का इस अभियान में सहयोग लिया जावेगा। जिसमें आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता लगाई  जावेंगी। साथ ही एसडीएम और सीईओ जनपद के माध्यम से केंद्रवार ड्यूटी लगाई जावेंगी। इस अभियान की समीक्षा जिले के एसडीएम सुनिश्चित करे। साथ ही पोलियो दिवस पर भी दवा पिलाने के कार्य पर नजर रखे।

सीएमएचओ डाॅ. एआर करोरिया ने बैठक में अवगत कराया कि पल्स पोलियो अभियान के अंतर्गत प्रथम दिवस में ही 80 प्रतिशत से अधिक बच्चों को जिंदगी की दो बूंद पिलाने की व्यवस्था जिले में स्थापित किए गए 737 बूथों पर की जावेगी। उन्होंने कहा कि इस दिशा में माइक्रो प्लान सही तरीके से तैयार करने की व्यवस्था की जावेगी। जिससे कोई भी बच्चा पोलियो की दो बूंद खुराक से वंचित नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि इस अभियान में बीएमओ द्वारा अपनी भागीदारी सुनिश्चित की जावेगी। साथ ही मजरा/टोले एवं आदिवासी क्षेत्र में भी दवा पिलाने के समुचित प्रबंधक किए जावेंगे।

डब्ल्यूएचओ के मेडिकल आफीसर  अमित गंभीर ने प्रेजेटेशन के माध्यम से अवगत कराया कि श्योपुर जिले में पल्स पोलियो अभियान के अंतर्गत 82 टीमें गठित की गई है। इसी प्रकार 1630 वेक्सिनेटर्स लगाए गए हैं। साथ ही 105 सुपरवाइजर की तैनाती की गई है। इसी प्रकार झुग्गी झोपड़ी और मेला आदि पर भी पल्स पोलियों की दवा बच्चों को पिलाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जावेगी। आदिवासी बाहूल्य क्षेत्रों में भी पोलियों की दवा पिलाई जावेगी। इस कार्यक्रम में एनजीओ का सहयोग लिया जावेगा। साथ ही स्वसंसेवी संस्थाओं का सपोर्ट लेने की व्यवस्था की जावेगी।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com