बाल कल्याण समिति के प्रयास से पश्चिमी बंगाल की किशोरी परिजनों के सुपुर्द

बून्दी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com – बाल कल्याण समिति के प्रयास से सदर थाना पुलिस द्वारा बून्दी में अवांछित गतिविधि में पकडी गयी पश्चिमी बंगाल निवासी एक किशोरी लगभग 11 महीने बाद अपने परिजनों के साथ उसके गृह जिले को पहुंचाई गई।बाल कल्याण समिति ने उसके माता-पिता का पता लगा कर उनके सुपुर्द कर दिया। समिति अध्यक्ष सीमा पोद्दार ने बताया कि बालिका के माता-पिता आर्थिक रूप से बहुत कमजोर है। उन्होंने लगभग 23 सौ किलो मीटर दूरी से बून्दीआने में असमर्थता जताई। इस पर बाल कल्याण समिति ने पहल कर मामले को गंभीरता से लेते हुए किशोरी के परिजनों को पश्चिमी बंगाल से बून्दी आने तक की व्यवस्था की और भटकी हुई बालिका को उसके माता-पिता से मिला दिया। लगभग 11 महीने पूर्व बिछड़ी अपनी बेटी को सामने पाकर परिजनों की आंखो से आंसू छलक पड़े। समिति द्वारा उक्त किशोरी एवं परिजनों की आवागमन संबंधी सहायता कर उन्हें पश्चिमी बंगाल उनके निवास पर भिजवाया गया। समिति अध्यक्ष सीमा पोद्दार ने बताया कि लगभग 3 महीने पूर्व बाल कल्याण समिति की सुपुर्दगी में आई उक्त किशोरी की गहनता से काउंसलिंग की गई ताकि वह अपने जीवन की नई शुरुआत कर सके।