ऑक्सीजन उत्पादन में प्रदेश शीघ्र होगा आत्म-निर्भर

भोपाल.Desk/ @www.rubarunews.com>>मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की आत्म-निर्भर भारत की परिकल्पना को पूरा करने की दिशा में मध्यप्रदेश तेजी से आगे बढ़ रहा है। प्रदेश में केन्द्र सरकार, निजी उद्यमों एवं जन-सहयोग से बड़ी संख्या में ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं। हम ऑक्सीजन के मामले में शीघ्र आत्म-निर्भरता हासिल कर लेंगे तथा हमें अन्य प्रदेशों से ऑक्सीजन लेने की आवश्यकता नहीं होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज एक साथ 4 ऑक्सीजन संयंत्र प्रारंभ होना विन्ध्य एवं रीवा क्षेत्र के लिए बड़ी उपलब्धि है। इनमें से तीन संयंत्रों की क्षमता 500-500 लीटर प्रति मिनिट तथा एक संयंत्र की क्षमता 100 लीटर प्रति मिनिट है।

 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज रीवा क्षेत्र के 4 ऑक्सीजन संयंत्रों का वर्चुअल लोकार्पण किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम, सांसद श्री जर्नादन मिश्र, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी (बैठक में), चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ला, विधायक श्री श्यामलाल द्विवेदी, श्री के.पी. त्रिपाठी, स्वास्थ्य आयुक्त श्री आकाश त्रिपाठी (बैठक में) शामिल हुए।

 

सरकार द्वारा 50 प्रतिशत पूँजी अनुदान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि निजी उद्यमों द्वारा ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाने पर प्रदेश सरकार 50% पूंजी अनुदान दे रही है। आज दो संयंत्र निजी कंपनियों द्वारा लगाए गए हैं। वर्षम कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा औद्योगिक पार्क रीवा में 310.91 लाख की लागत से लगाया गया प्लांट 500 एल.पी.एम. क्षमता का है। जे.पी. लिमिटेड द्वारा जे.पी. अस्पताल रीवा में लगाया गया प्लांट 500 एल.पी.एम. क्षमता का है।

 

सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में जन-भागीदारी से संयंत्र

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल रीवा में 98.71 लाख रूपये की लागत से 500 एल.पी. एम क्षमता का प्लांट जन-भागीदारी से लगाया गया है। इसके लिए सभी संबंधित बधाई के पात्र हैं। साथ ही जिला अस्पताला रीवा में मुख्यमंत्री राहत कोष से 44.72 लाख रूपए की लागत से 200 एल.पी.एम. क्षमता का ऑक्सीजन संयंत्र लगाया गया है।

विन्ध्य क्षेत्र के विकास के लिए निरंतर कार्य

विधानसभा अध्यक्ष  गिरीश गौतम ने कहा कि क्षेत्र में एक साथ 4-4 ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित किए जाने पर मैं यहाँ की जनता की ओर से मुख्यमंत्री श्री चौहान का धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ। प्रदेश सरकार विन्ध्य क्षेत्र के विकास के लिए निरंतर कार्य कर रही है। बाणसागर परियोजना ने क्षेत्र के किसानों की तकदीर बदल दी है।

 

कोरोना नियंत्रण के लिए सराहनीय कार्य

सांसद  जनार्दन मिश्र ने कहा कि रीवा क्षेत्र में कोरोना नियंत्रण, विकास, उद्योग, हवाई सेवाओं आदि कार्यों के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा सराहनीय कार्य किया गया है।

म.प्र. का जन-भागीदारी मॉडल सराहनीय

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में मध्यप्रदेश के जन-भागीदारी मॉडल की पूरे देश में सराहना हो रही है। पहले कोरोना नियंत्रण और अब आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश की स्थापना में यह मॉडल अत्यंत कारगर सिद्ध हो रहा है।

 

रीवा को 100 वैक्सीनेशन के लिए बधाई

चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग ने कहा कि इन ऑक्सीजन संयंत्रों के प्रारंभ हो जाने से रीवा ऑक्सीजन क्षेत्र में आत्म-निर्भरता को प्राप्त कर लेगा। प्रदेश में देवास नगर निगम के बाद रीवा ने कोरोना वैक्सीनेशन का शत-प्रतिशत प्रथम डोज लगवाने का लक्ष्य पूरा कर लिया है। इसके लिए रीवा बधाई का पात्र है।

 

रीवा को मिली हैं बड़ी सौगातें

विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज रीवा जिले को बड़ी सौगातें दी हैं। आज यहाँ ऑक्सीजन प्लांट की श्रंखला का लोकार्पण हुआ है। इससे यहाँ पर्याप्त मात्रा में मेडिकल ऑक्सीजन उपलब्ध होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रयासों से रीवा में हवाई अड्डा बनाया जाएगा और शीघ्र इंदौर एवं भोपाल के लिए वायु सेवा प्रारंभ होगी।