कानून व्यवस्था को प्रभावी बनाने की दिशा में कदम उठाये जावें-कमिश्नर

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>>मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आगामी 13 मार्च 2021 को कलेक्टर्स/कमिश्नर/आईजी/पुलिस अधीक्षक की वीसी के बिन्दुओं पर अमल किया जावे। साथ ही कानून व्यवस्था को प्रभावी बनाने की दिशा में निरंतर कदम उठाये जावे। उक्त उद्गार ग्वालियर-चंबल संभाग के कमिश्नर  आशीष सक्सेना ने आज गूगल मीट के माध्यम से चंबल संभाग के श्योपुर, मुरैना, भिण्ड एवं दतिया जिले के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षकों से बिन्दुवार समीक्षा के दौरान उनसे चर्चा कर रहे थे।
कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना ने कहा कि इन चारो जिलो में कानून व्यवस्था को प्रभावी बनाने की
दिशा में निरंतर प्रयास किये जावे। उन्होने कहा कि खनिज माफिया के विरूद्ध सख्ती से कार्रवाई की जावे। जिसमें अवैध रूप से खनिज का परिवहन करने वाले रेत टैक्टरों, ट्रकों पर कार्यवाही की जाकर उनको राजसात करने की दिशा में कदम उठाये जवो। इसके अलावा रेत उत्खन्न में पनडूब्बी लगी मिलने पर उनको राजसात किया जावे। इसी प्रकार एन्टी माफिया अभियान में कार्यवाहियां निरंतर जारी रखी जावे। साथ ही अवैध शराब विक्रय की दिशा में अभियान निरंतर चलना चाहिए। इसी प्रकार सरकारी जमीन पर किसी माफिया द्वारा अवैध कब्जा किया हो। तब उसके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जावे।
संभागायुक्त श्री सक्सेना ने कहा कि खाद्य सामग्री में मिलावट करने वालों के खिलाफ निरंतर अभियान चलाया जावे। साथ ही अभियान के दौरान अनियमितता पाये जाने पर एफआईआर कराई जावे। उन्होने कहा कि जिला बदर के प्रकरण का निरकरण किया जावे। इसी प्रकर अपह्त बालिकाओ के प्रकरणों में ठोस कदम उठाये जावे। उन्होने कहा कि चिटफंड कंपनियों पर कार्यवाही होनी चाहिए। इसी प्रकार जिले की सीमा पर चैकिंग अभियान चलाने के लिए नाके व्यवस्था को प्रभावी बनाया जावे। उन्होने भिण्ड जिले की समीक्षा के दौरान कहा कि खदानो पर कार्यवाही अवश्य होना चाहिए। जिसमें नामजद एफआईआर कराई जावे। साथ ही अगर एफआईआर हो चुकी है। तब उसमें गिरफ्तार भी होना चाहिए।
संभागायुक्त  आशीष सक्सेना ने कहा कि शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना, नवीन पात्रता पर्चीधारी हितग्राहियों को खाद्यान वितरण एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली, गौ सेवा योजना, नगरीय एवं ग्राम पंचायत क्षेत्र के विकास की कार्य योजना, जल जीवन मिशन के अतंर्गत नलजल योजना, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, राजस्व वसूली, आयुष्मान भारत कार्ड योजना सहित वन अधिकार अधिनियम में पट्टे, समर्थन मूल्य पर किसानों को भुगतान एवं आगामी उपार्जन के कार्य एवं अन्य योजनाओं की लक्ष्यपूर्ति शत प्रतिशत की जावे।
इसी प्रकार पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत लक्ष्यो की पूर्ति समय सीमा में सुनिश्चित की जावे। जिससे इस योजना के टारगेट समय पर पूर्ण हो सके। उन्होने कहा कि दोनो संभागो के कलेक्टर एवं संभागीय अधिकारी समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए कार्यवाहियों को समय सीमा में जारी रखे। उन्होने कहा कि किसान कल्याण योजनाओं के अतंर्गत किसानों की रबी फसलो के लिए खाद की व्यवस्था को प्रभावी बनाया जावे। साथ ही खाद वितरण व्यवस्था पर विशेष निगरानी रखी जावे। इसी प्रकार जिला कलेक्टर्स अपने जिलों में अनावश्यक वस्तुओं की रोकथाम के लिए चैक पोस्टों पर चैकिंग जारी रखे। उन्होने कहा कि जिससे संभाग के जिले टॉप 10 की श्रेणी में आकर प्रदेश के अन्य जिलो में अपनी पहचान बनाने में सहायक होगे।
श्योपुर कलेक्टर, एसपी ने दी जानकारी
कमिश्नर  आशीष सक्सेना की अध्यक्षता में आयोजित गूगल मीट में श्योपुर कलेक्टर श्री राकेश कुमार श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक श्री सम्पत उपाध्याय ने बताया कि श्योपुर जिले में कानून व्यवस्था बनाये रखने की दिशा में निरंतर कदम उठाये जा रहे है। जिसके अंतर्गत जिला बदर के 06 प्र्रकरणो में बदमाशों पर कार्यवाही की गई है और प्रकरण भी तैयार किये जा रहे है। जिसमें 40 प्रकरणों का आंकडा पहुंचेगा। उन्होने कहा कि कानून व्यवस्था के अंतर्गत इस माह शासकीय जमीनो से अतिक्रमण के दो प्रकरण बनाये जा चुके है। साथ ही एन्टी माफियाओ के विरूद्ध भी अभियान चलाया जा रहा है। इसी प्रकार सहारा चिटफंड कंपनी द्वारा लोगो से लिये गये पैसे वापिस किये जा रहे है। उन्होने कहा कि कुल 08 अपह्त बालिकाओं को लाने की दिशा में प्रयास जारी है। साथ ही मिलावटखोरो के विरूद्ध अभियान चलाया जाकर सैम्पल लिये जा रहे है। साथ ही दो प्रकरणों में एफआईआर कराई गई है। इसके बावजूद भी प्रशासन एवं पुलिस की कार्यवाही प्रचलित है। इसी प्रकार जिले में 03 नाके लगाये जाकर कार्यवाहियों को अंजाम दिया जा रहा है। इसके अलावा मा. न्यायालयों के प्रकरणों में कार्यवाही जारी है।
कल्याणकारी योजनाओं के अंतर्गत लक्ष्यपूर्ति
कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव ने गूगल मीट में बताया कि शासन की कल्याणकारी योजनाओं के अतर्गत श्योपुर जिले के लिए निर्धारित लक्ष्यो की शत प्रतिशत पूर्ति करने की कार्यवाही निंरतर जारी है। जिससे श्योपुर जिला प्रदेश के अन्य टॉप 10 जिलो की बाराबरी में आ सके। कलेक्टर ने कहा कि राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत प्रदेश में श्योपुर जिला लक्ष्य प्राप्ति में दूसरे स्थान पर है। श्योपुर ने 94 प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति अभी तक कर ली गई है। कलेक्टर ने एक जिला एक उत्पाद के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि अमरूद की पैदावार और ब्राडिंग का कार्य किया जा रहा है। साथ ही अमरूद की फसल को बढावा देने के लिए (थाई अमरूद) व्यापक पैमाने पर लगाने की दिशा में प्रभावी कार्यवाही अमल में लाई जा रही है।
इसी प्रकार राजस्व वसूली की दिशा में राजस्व अधिकारियों द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहे है। जिसमें 87 प्रतिशत वसूली की जा चुकी है। शेष वसूली को समय सीमा में पूरा करने की पहल जारी है। कलेक्टर ने कहा कि स्वामित्व योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यवाहियों निरंतर की जा रही है। उन्होने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के अतंर्गत आजीविका मिशन के माध्यम से एक्सप्रेस संचालित की जा रही है। जिसमें यह एक्सप्रेस प्रति दिवस सीएफटीओं के क्षेत्र में कार्ड बनाने का कार्य कर रही है। उन्होने कहा कि बीएमओ,एमओ, सुपरवाईजर, प्रतिदिवस कार्ड बनाने की दिशा में कार्यवाहियो को आगे बढा रहे है। जिले में अभी तक करीबन डेढ लाख से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाये जा चुके है। कलेक्टर ने कहा कि आगामी रबी उपार्जन के लिए 38 केन्द्र निर्धारित किये गये है।
इसी प्रकार पीएम स्वनिधि योजना में शत प्रतिशत लक्ष्यो की पूर्ति की दिशा में कार्यवाहियां जारी है। इसी प्रकार सीएम ग्रामीण पथ विक्रेता योजना के अंतर्गत अवगत कराया कि 85000 रजिस्ट्रेशन जिले में अभी तक किये जा चुके है। इनमें से लगभग 12 हजार प्रकरण बैंको को भेजे जा चुके है। जिसमें से 87 प्रतिशत से अधिक हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया है। इसी प्रकार नवीन पात्रता पर्ची का भी 96 प्रतिशत से अधिक वितरण किया जा चुका है।

गूगट मीट के दौरान कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के सभागार में कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक  सम्पत उपाध्याय, सीईओ जिला पंचायत  राजेश शुक्ल, अपर कलेक्टर  रूपेश उपाध्याय, डिप्टी कलेक्टर  विजेन्द्र सिंह यादव, सीएमएचओ डॉ बीएल यादव, उपसंचालक कृषि  पी गुजरे, उपसंचाकल पशुपालन डॉ आरएस सिकरवार, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास  ओपी पाण्डेय, डीपीएम आजीविका मिशन  सोहनकृष्ण मुदगल, जीएमडीआईसी  एसआर चौबे, जिला आबकारी अधिकारी  राकेश शर्मा, खनिज अधिकारी  पी कमलेश, जिला प्रबंधक लोक सेवा प्रबंधन  योगेश पुरोहित, कलेक्टर कार्यालय के ओएस  दिलीप बंसल, प्रभारी खाद्य अधिकारी सुश्री लवली गोयल एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।