सुधार न करने पर दी अधिकारियों पर कडी कार्यवाही की चेतावानी 

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> कलेक्टर वीरेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्ष्ता में लोक सेवा प्रबंधन विभाग की समीक्षा बैठक कलेक्टर कार्यालय चैम्बर में सम्पन्न हुई। बैठक में अपर कलेक्टर अनिल कुमार चांदिल, सीईओ जिला पंचायत श्री आईएस ठाकुर, प्रभारी अधिकारी लोक सेवा एवं एसडीएम भिण्ड-अटेर उदय सिंह सिकरवार एवं जिला प्रबंधक लोक सेवा भानु प्रजापति उपस्थित थे। बैठक में जिले मे लंबित सीएम हेल्पलाइन शिकायतों पर चर्चा की गई। कलेक्टर ने आगामी मार्च माह में रोस्टर जारी कर सभी विभागों को पुन: प्रशिक्षण देने हेतु जिला प्रबंधक लोक सेवा भानु प्रजापति को निर्देशित किया। इस माह जिले की ग्रैडिंग में सुधार ना होने पर सभी एल-1 एवं एल-2 सीएम हेल्पलाइन अधिकारियों को जिनके स्तर पर अधिक शिकायतें लंबित हैं को कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ऐसे अधिकारी जिनके स्तर से बिना निराकरण दर्ज किए शिकायतें उच्च लेवल पर एस्क्लेट हुई, को प्रति शिकायत 150 रुपए के हिसाब से जुर्माना करने हेतु एवं जिला ई-गवर्नेंस सोसायटी में जमा करने की कार्यवाही करने हेतु लोक सेवा प्रबंधन विभाग को निर्देशित किया। कलेक्टर वीरेन्द्र सिंह रावत ने माह में लोक सेवा केन्द्रों की प्राप्त शिकायतों पर सीईओ जिला पंचायत को कार्यवाही करने एवं आवश्यकता अनुसार अर्थदंड अधिरोपित करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक सेवा केंद्रों को आधार पंजीयन, आयुष्मान पंजीयन एवं सीएससी केंद्र के रुप में विकसित करने की समीक्षा की एवं सहयोग न करने वाले केंद्रों पर अर्थदंड अधिरोपित करने की कार्यवाही करने के निर्देश जिला पंचायत सीईओ को दिए। लोक सेवा केन्द्रों की सतत निगरानी रखने एवं कार्यवाही करने के निर्देश कलेक्टर ने जिला प्रबंधक लोक सेवा को दिए एवं आगामी 01 मार्च को होने वाले इलेक्शन प्रशिक्षण में सभी लोक सेवा केंद्र संचालकों एवं 1 ऑपरेटर की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए एवं निर्वाचन कार्य को प्राथमिकता से करवाने के निर्देश दिए। आगामी टीएल बैठक में जिले में पूर्व से लंबित सीपी ग्राम की शिकायतों की समीक्षा एवं नई व्यवस्था का प्रशिक्षण जिला अधिकारों को देने के निर्देश दिए। ऐसे अधिकारी जिन्होंने लोक सेवा गारंटी के आवेदन समय सीमा के पश्चात निराकरण किए हैं के खिलाफ प्रति दिवस प्रति प्रकरण 250 रूपए के मान से अर्थदंड अधिरोपित करने के निर्देश दिए। बैठक में प्रभारी अधिकारी लोकसेवा ने अवगत कराया कि लोक सेवा आपरेटर लोक सेवा गारंटी एवं सीएम हेल्पलाइन के कार्य नही कर रहे जिससे शिकायतों के निराकरण नही हो पाते तथा आवदेन समय सीमा से बाहर चले जाते हैं। इसी प्रकार एसडीएम मेहगांव ने पत्र के माध्यम से अवगत करवाया कि मेहगांव में आपरेटर सोनाली पिछले 6 महीनों से बिना सूचना के अनुपस्थित है कार्यवाही हेतु  प्रतिवेदन दिया। संबंधित लोक सेवा गारंटी आपरेटर के खिलाफ कार्यवाही करने हेतु जिला प्रबंधक लोक सेवा को निर्देशित किय।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com