बुराईयां छोड़े, आगे बढ़ें- कलेक्टर

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- ग्रामीणों की समस्याओं के गांव में ही समाधान के लिए मंगलवार को बूंदी पंचायत समिति के रामनगर गांव में जिला कलक्टर की रात्रि चौपाल का आयोजन किया गया। इसमें जिला कलक्टर रेणु जयपाल ने ग्रामीणों की समस्याएं जानी और मौके पर ही उनका समाधान कर राहत पहुंचाई।
चौपाल में उपस्थित ग्रामीणों का जिला कलेक्टर ने आव्हान किया कि ग्रामीण पढ़ें, स्वरोजगार करें ,आगे बढ़े, बुराइयों को छोड़ें। पूरा प्रशासन व पुलिस उनके साथ है, कदम आप को बढ़ाना होगा। ग्राम वासियों ने इस पर तालियां बजाकर स्वागत किया और जिला कलेक्टर की ऑपरेशन अस्मिता के जरिए सुधार लाने की कोशिश के लिए साधुवाद दिया। ग्रामीणों ने कहा कि वे इस मुहिम में भागीदार बनेंगे।
जिला कलेक्टर के समक्ष ग्रामीणों ने पंच पटेलों की परंपरा और अनैतिक कार्य की जानकारी देते हुए माहौल में सुधार एवं आदर्श ग्राम बनाने की मांग की। जिला कलेक्टर ने कहा कि ग्रामीणों के सहयोग से ही यह संभव है। खेरूणा की तर्ज पर ओडीएफ प्लस आदर्श गांव बनाया जाए। शिक्षा और स्वरोजगार के लिए वातावरण निर्माण किया जाए।
बकरी पालन का प्रशिक्षण देंगे
ग्राम वासियों के रोजगार की समस्या बताने पर जिला कलेक्टर ने बकरी पालन प्रशिक्षण दिलवाने का आश्वासन दिया जिस पर ग्रामीणों ने सहमति जताई। जिला कलक्टर ने कहा कि रोजगार के लिए कृषि विज्ञान केंद्र में बकरी पालन प्रशिक्षण आगामी माह से दिलवाया जाएगा। साथ ही नाबार्ड द्वारा वित्तीय संबलन भी किया जाएगा ताकि ग्रामीण प्रशिक्षण उपरांत बकरी पालन को स्वरोजगार के रूप में अपना कर धनोपार्जन कर सकें।
गांव की कुछ छात्राओं ने शिक्षा संबंधी परेशानी बताई जिस पर जिला कलक्टर ने एक बालिका की फीस कम कराने और एक को छात्रावास में प्रवेश दिलवाने के लिए मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए।
गांव में पानी, सड़क, प्रधानमंत्री आवास, चिकित्सा आदि संबंधित समस्या ग्रामीणों ने रखीं जिनके समाधान के लिए जिला कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।
पुलिस को बताएं, मदद होगी
चौपाल में मौजूद सदर थाना प्रभारी अरविंद भारद्वाज ने ग्रामीणों से कहा कि वे पंच पटेल एवं अन्य कुरीति को हतोत्साह करें और किसी भी अवांछित घटना की जानकारी पुलिस को दें। उनकी हर तरह से मदद की जाएगी।
रात्रि चौपाल में मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद मुरलीधर प्रतिहार, उपखंड अधिकारी कमल कुमार, सरपंच बबीता, नाबार्ड जिला प्रबंधक राजकुमार, बिजली, पानी, सड़क ,चिकित्सा, शिक्षा, रोजगार, रसद सहित अन्य विभागों से संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।