टोल प्लाजा पर असामाजिक तत्वों का अवैध कब्जा-अप्रिय घटना घटित होने का इंतजार

भिण्ड.Shashikant Goyal/ @www.rubarunews.com>> शहर के ऊमरी टोल प्लाजा पर असामाजिक तत्वों का अवैध कब्जा किया गया है। जिसके संदर्भ में कुलदीप सिंह एमडी एस.के.एम. ने जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन को अवैध कब्जा हटवाने के लिए पत्र लिखा जिसके बाद भी प्रशासन कार्यवाही करने से पीछे हट रहा है। बतादें कि इस टोल पर काम करने वाली कंपनी का कार्यकाल 31 दिसम्बर 2020 को समाप्त हो चुका है जिसके बाद वहीं दूसरी कम्पनी को 8 दिसम्बर 2020 की मध्य रात्रि 12 बजे से टोल कलेक्शन का टेण्डर दे दिया गया है। लेकिन पुरानी कम्पनी कान्त मेनपॉवर एण्ड मैनेजमेन्ट सर्विसेज के कुछ असामाजिक प्रवृत्ति के लोगों ने बंदूक की दम पर टोल पर अवैध कब्जा कर अवैध वसूली की जा रही है।                                      ऊमरी टोल प्लाजा के दूसरी कम्पनी एस.के.एम. कॉन्ट्रेक्टर एण्ड सर्विसेज प्रा.लि. जिसके संचालक कुलदीप सिंह जब अपने स्टाफ के साथ टोल प्लाजा पर 8 दिसम्बर 2020 को टोल को हैण्डओवर के लिए पहुंचे तो वहां पहले से ही पूर्व कम्पनी के कुछ लोग मौजूद थे। जब उन्होंने टोल के हस्तान्तरण की बात की तो पुरानी कम्पनी के कुछ लोगों ने उनके स्टाफ के साथ अभद्र व्यवहार करने की कोशिश की और स्टाफ को जान से मारने की धमकी दी। जिसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक, जिला कलेक्टर, डीएसपी हैडक्वार्टर एवं एडीएम को दी जिस पर आज तक कोई कार्यवाही नहीं की। इन असामाजिक तत्वों को राजनैतिक लोगों का संरक्षण प्राप्त है। कम्पनी संचालक कुलदीप सिंह ने कहा कि टोल प्लाजा ऊमरी का शांतिपूर्ण हस्तांतरण नहीं हुआ और प्रशासन ने उचित कार्यवाही नहीं की तो किसी भी समय अप्रिय घटना घटने की आंशका है। जिसके लिए संचालक ने वरिष्ठ अधिकारियों को संज्ञान में ला दिया गया।

ऊमरी थाना प्रभारी असामाजिक तत्वों का दे रहा साथ

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार ऊमरी थाना प्रभारी दीपेन्द्र यादव टोल पर अवैध कब्जा जमाए असामाजिक तत्वों का अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग कर रहे है। थानाप्रभारी आसामाजिक तत्वों के अनुरूप कार्य कर रहे हैं। जिससे अवैध कब्जा किए दबंगों के हौंसले बुलंद हैं। इधर कार्यवाही के नाम पर प्रशासन राजनैतिक दबाव के चलते मूक दर्शक बना है।