शिक्षक आने वाली पीढ़ी को शिक्षित और संस्कारित करते हैं- घनश्याम सिंह

सेंवढ़ा में हुआ बीआरसी, बीएसी, जनशिक्षक विदाई समारोह

दतिया @rubarunews.com>>>>>>>>>>>> शिक्षक आने वाली पीढ़ी को न केवल शिक्षित बल्कि संस्कारित कर एक सभ्य नागरिक बनाते हैं। राष्ट्र व समाज के निर्माण में शिक्षकों की भूमिका अहम हैं। यह विचार सेंवढ़ा विधायक घनश्याम सिंह ने सेवड़ा के बीआरसी हॉल में शिक्षक दिवस पर आयोजित शिक्षक सम्मान एवं विदाई समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर कही।उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में लगातार विस्तार हुआ है। सभी बसाहटों में स्कूल खोले गए हैं, सभी जगह शिक्षक पूरे मनोयोग और समर्पण की भावना से शिक्षण कार्य कर रहे हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता बीआरसी पुरुषोत्तम पाठक ने की। कार्यक्रम में शिक्षकों को उनकी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए विधायक श्री सिंह द्वारा सम्मानित किया गया। जिन शिक्षकों का सम्मान हुआ उनमें सर्वश्री कुंज बिहारी मिश्रा, उच्च माध्यमिक शिक्षक कृष्ण सिंह यादव, प्रधान अध्यापक श्रीमती पूनम शर्मा, प्राथमिक शिक्षक अतुल गुप्ता, माध्यमिक शिक्षक हरनारायण कुशवाहा प्राथमिक शिक्षक एवं छक्की लाल जाटव, माध्यमिक शिक्षक आदि का शाल और श्रीफल से माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। कार्यक्रम में बीएसी श्रीकृष्ण शिवहरे, राजकुमार बसेड़िया, नरेंद्र चौहान, चंद्र प्रकाश जाटव, घनश्याम सिंह कुशवाहा, रणवीर जाटव, उत्कृष्ट विद्यालय के प्राचार्य संजय शर्मा, कमलेश प्रजापति, प्राचार्य कन्या कॉलेज सेवड़ा अखिलेश राजपूत, संतोष चौबे जी उपस्थित रहे। इस अवसर पर मुख्य अतिथि विधायक श्री सिंह द्वारा पूर्व में कार्यरत विकास खंड अकादमिक समन्वयक एवं जन शिक्षकों को शॉल-श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। सतीश तिवारी, कमलेश देसाई, वीरेंद्र सिंह राजपूत, जनवेद सिंह जाटव और शरद पिपल के द्वारा भी बीआरसी, बीएसी एवं जन शिक्षकों को उनकी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए स्मृति चिन्ह भेंट किए गए।