अपने नैतिक दायित्व निभाएं ताकि, बनी रहे आंगन में चिड़िया की चहचहाहट – रेखा शर्मा

  बून्दीKrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>> – उमंग संस्थान द्वारा आयोजित सेवबर्ड्स परिण्डा फोटो कॉन्टेस्ट का बाल कल्याण समिति की पूर्व अध्यक्ष और लिटिल एन्जिल स्कूल शिक्षा समिति की निदेशक और उमंग की मार्गदर्शिका रेखा शर्मा के आतिथ्य में परिणाम जारी किया गया

 

परिणाम जारी करते हुए रेखा शर्मा ने कहा कि चिड़िया की चहचहाहट को जीवन्त बनाए रखने के लिए बेजुबान पक्षियों की दाने पानी की व्यवस्था करना हमारा नैतिक दायित्व हैं।
शर्मा ने कहा कि उमंग संस्थान सामाजिक एवं सांस्कृतिक क्षेत्र में कई नवाचारों द्वारा अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रहा है। पक्षियों की सेवा के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए चलाए गए सेवबर्ड्स परिण्डा फोटो कॉन्टेस्ट का प्रभावी रहा हैं।
परिण्डा फोटो कॉन्टेस्ट के विजेताओं की घोषणा करते हुए रेखा शर्मा ने बताया कि इस इवेंट में बेस्ट परफ़ोर्मेन्स करते हुए कोरिया छत्तीसगढ़ के बिसे लाल गायकवाड़ विजेता रहे, वहीं बून्दी की आव्या माहेश्वरी, बिलासपुर के अनुपम दे, रायपुर के हेमन्त कुमार साहु तथा कोटा की शोभा कंवर का चयन रनरअप के लिए किया गया है।
सेकण्ड रनरअप हेतु नागौर के सत्तार कायमखानी, शहडोल की श्रेया जैन, जोधपुर के शैतानाराम विश्नोई, डीसा गुजरात के शैलेश कुमार प्रजापति और बून्दी की उम्मेहबीबा का चयन किया गया है। वहीं सख्यात्मक उपलब्धि हेतु हनुमानगढ की मंजु गुप्ता तथा धनसुरा गुजरात की संगीता बेन सोनी को सम्मानित किया जायेगा।

 

11 लाख से ज्यादा लोगों ने की ऑनलाईन सराहना…..
सेवबर्ड्स कार्यक्रम की प्रभारी अनुराधा जैन तथा संयोजक विनोद गौतम ने जानकारी देते हुए बताया कि इस फोटो कॉन्टेस्ट के तहत 129 सम्भागियों की प्रविष्टियों को 11 लाख से ज्यादा लोगों के द्वारा ऑनलाईन देखा गया और सराहना की गई। इस कॉन्टेस्ट सहित 5280 परिण्डे लगाए और वितरित किए गए।
इस अवसर पर उमंग संस्थान के संरक्षक अनिल शर्मा ने शुभकामनाएं देते हुए इन पशु पक्षियों की सेवा को पर्यावरण और मानव हित मे आवश्यक बताया।
सचिव कृष्ण कांत राठौर ने कहा कि संस्थान के द्वारा विगत वर्ष से ग्रीष्म काल में बेजुबान पक्षियों के लिए परिंडा अभियान संचालित किया जाकर विगत 15 सालों से वर्तमान तक 50 हजार से ज्यादा परिण्डे लगाये जा चुके हैं। यह अभियान गौरेया दिवस से मानसून आने तक निरन्तर चलाया जाता हैं। कार्यक्रम में अनवरत विशिष्ट योगदान हेतु अनिल मेहर, अक्षिता सिंह, पार्थ जैन, श्रुति शर्मा, पूजा शर्मा, नमिता जिन्दल, पार्थ तोषनीवाल और दुर्व्यसन मुक्ति मंच संगठन को भी सम्मानित किया गया।
यहाँ पर उपाध्यक्ष लोकेश जैन, समन्वयक सर्वेश तिवारी, एजुसेल के नमिता जिन्दल, आतिश वर्मा, जय सिंह सोलंकी मौजुद रहे।