जनसुनवाई में आये आवेदनों का शीघ्र निराकरण करें -कलेक्टर 

भिण्ड.shashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> नवागत कलेक्टर डॉ सतीष कुमार एस की अध्यक्षता में राज्य सरकार के महत्वाकांकार्यक्रम जनसुनवाई कलेक्ट्रेट परिसर के सामाजिक न्याय कार्यालय में आयोजित की गई। जनसुनवाई में कलेक्टर ने 92 आवेदको की गंभीर होकर फरियाद सुनी एवं आवेदनो पर कार्यवाही के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देष दिए। जनसुनवाई कार्यक्रम में अपर कलेक्टर प्रवीण फुलपगारे, सीईओ जिला पंचायत आईएस ठाकुर सहित अन्य विभागीय अधिकारी एवं अपनी समस्याऐं लेकर आए शहरी एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे। जनसुनवाई कार्यक्रम में नवागत कलेक्टर डॉ सतीष कुमार एस के समक्ष रामोतार पुत्र पन्नालाल जाटव निवासी ग्राम सिकहाटा भिण्ड ने इंदिरा आवास की अंतिम किश्त दिलाने बावत, श्रीमती किरन पत्नी प्रमोद कुमार निवासी नायब भिण्ड ने शासन द्वारा प्रसव क्रिया की स्वीकृत राषि दिलाने संबंधी, थानसिंह एवं दीवान सिंह पुत्र छत्रपाल निवासी गोरमी ने नामांतरण की प्रवृष्टि कम्प्यूटर में दर्ज कराने संबंधी, भगवानदास एवं समस्त हरिजन मोहल्लावासी निवासी बालूपुरा ने गांव में जल भराव होने से नाली निर्माण कार्य कराने संबंधी, दीपूसिंह राजावत पुत्र महेष सिंह निवासी सुल्तान सिंह पुरा बाराखुर्द ने गांव में पानी की समस्या को देखते हुए हैण्डपंप का खनन कराने संबंधी, प्रेमचंद्र जैन पुत्र नेमीचंद्र जैन निवासी विकास नगर धर्मपुरी ने दोनो पैरो से विकलांग हूं मुझे ट्राईसाइकिल दिलाने संबंधी, सोनू पुत्र राकेष निवासी राजगढिया मोहल्ला एवं राजेन्द्र सिंह निवासी ग्राम प्रेमनगर भिण्ड ने दोनो पैरो से विकलांग होने से ट्राईसाइकिल दिलाने संबंधी, षिवभान सिंह राठौड निवासी जामना रोड ने दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम के तहत रजिस्ट्रीकरण का नवीनीकरण करने संबंधी, मटरूलाल पुत्र षिवलाल निवासी प्रेमनगर तहसील गोरमी ने बीपीएल कार्ड बनाने संबंधी आवेदन प्रस्तुत किये। जिस पर कलेक्टर ने सभी आवेदनों को संबंधित अधिकारियों को अग्रेषित कर कार्यवाही करने के निर्देष दिए।

जनसुनवाई कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर ने बीमारी से संबंधित इलाज, विद्युत बिलों में सुधार, हैण्डपंपो का संधारण, पेंशन, सडक दुघर्टना सहायता, हितग्राही मूलक योजनाओं में बैंक ऋण, बीपीएल राशन कार्ड, जमीन पर कब्जा आदि, प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत कराने से संबंधित आवेदनो पर गंभीरतापूर्वक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। साथ ही जनसुनवाई में आए आवेदको को उनके द्वारा दिए गए आवेदनों की पावती उपलब्ध कराई।