सड़क सुरक्षा के प्रति बच्चों और अभिवाहकों को जागरूक किया गया Children and guardians were made aware of road safety

पटना.Desk/ @www.rubarunews.com>> राजधानी पटना के अमलाटोला मध्य विद्यालय में राइड टू सेफ्टी अभियान के तहत विद्यालय के बच्चों एवं अभिवाहकों को सड़क सुरक्षा को लेकर जागरूक किया गया और उनके बीच हेलमेट का वितरण किया गया।
आईसीआईसीआई लोम्बार्ड के सौजन्य से इंडियन हेड इंजरी फाउंडेशन ने पटना में सुरक्षा अभियान की शुरुआत की है,जिसका उद्देश्य पटना में सड़क सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करना है।जागरूकता अभियान के तहत दीदीजी फाउंडेशन की संस्थापक राष्ट्रीय-राजकीय सम्मान से सम्मानित समाजसेविका-शिक्षिका डॉ. नम्रता आनंद, वोकैट संस्था की श्रीमती कंचन कुमारी अमलाटोला मध्य विद्यालय में हेलमेट वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया। डा. नम्रता आनंद के नेतृत्व में बच्चों एवं उनके अभिभावकों को हेलमेट वितरित किया गया। इस कार्यक्रम में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी गर्दनीबाग निरंजना कुमारी बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थी।

सड़क सुरक्षा के प्रति बच्चों और अभिवाहकों को जागरूक किया गया Children and guardians were made aware of road safety

इस अवसर पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी गर्दनीबाग निरंजना कुमारी ने आईसीआईसीआई लोंबार्ड, ,कंचन कुमारी तथा डॉ नम्रता आनंद के इस पहल की सराहना की। उन्होंने कहा हेलमेट आपकी जान की सुरक्षा है। हादसों का सबसे ज्यादा शिकार बाइक सवार को ही होना पड़ता है। इसलिए इसका इस्तेमाल सफर करते समय जरूर करें। यातायात सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन कर हम अपने व दूसरों के जीवन को सुरक्षित कर सकते है।आपका जीवन अनमोल है। इसलिए यातायात नियमों के पालन के साथ चलें और सुरक्षित चलें।
दीदीजी फाउंडेशन की संस्थापक डा. नम्रता आनंद ने कहा, हर वर्ष सड़क दुर्घटनाओं में दोपहिया वाहन चलाने वाले लाखों लोगों की मौत हेलमेट नहीं पहनने से होती है।हेलमेट पहनने से सड़क हादसे के दौरान, जान बचने की संभावना बढ़ जाती है। बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं के देखते हुए हेलमेट अभियान को बढ़ावा दिया जा रहा है। सड़क सुरक्षा को लेकर जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। कुछ लोग हेलमेट तो पहनते हैं लेकिन उसकी पट्टी नहीं बांधते जबकि हेलमेट की पट्टी बांधना जरूरी होता है। अगर किसी ने हेलमेट पहन रखा है लेकिन उसकी पट्टी नहीं बांधी है तो दुर्घटना की स्थिति में हेलमेट सुरक्षा नहीं कर पाएगा।
कंचन कुमारी ने कहा,हम लोग लोगों को जागरूक कर रहे हैं कि सड़क पर चलने के लिए सेफ्टी का प्रयोग करना है जैसे बाइक में चलने पर हेलमेट की जरूरत होती है। हेलमेट अपनी सुरक्षा के लिए लगाना है न कि पुलिस के चालान से बचने के लिए। हेलमेट लगाकर ही घर से निकलना चाहिए। बिना हेलमेट न निकलने की आदत बनानी चाहिए।हेलमेट नहीं पहनने से दुर्घटना में सिर में चोट आने पर मौत की घटना अधिक होती है। इससे हेलमेट को कानूनी कार्रवाई से बचने नहीं अपनी जान की सुरक्षा के लिए अवश्य पहन वाहन चलाएं। यातायात नियमों का पालन करने से दुर्घटना पर अंकुश लगाया जा सकता है।
इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अमलाटोला मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक सुदर्शन सिंह, शिक्षक सदय कुमार, सकसेहन कुमार, शशिकांत शर्मा, की महत्वपूर्ण भूमिका रही।