स्ट्रीट बैंडर योजना का लाभ एक दिन में दें- कलेक्टर

दतिया  @rubarunews.com>>>>>>>कलेक्टर संजय कुमार ने राज्य शासन की प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों एवं अभियानों की विभागवार समीक्षा करते हुए एनआरएलएम के संबंधित अधिकारी एवं बैंकर्स को निर्देष दिए कि स्ट्रीट वैण्ड़र योजना के तहत् ऐसे प्रयास किए जावे कि हितग्राहियों को एक ही दिन में उनके आवेदन पत्रों की जांच पड़ताल कर प्रकरणों में स्वीकृति एवं वितरण की कार्यवाही करें। जिससे हितग्राहियों को अनावष्यक रूप से ऋण प्राप्त करने हेतु वार-वार बैंक की शाखाओं में न आना पड़े।

कलेक्टर कुमार ने उक्ताशय से न्यू कलेक्ट्रेट के सभकक्ष में शनिवार को विभिन्न विभागों की अधिकारियों की समीक्षा बैठक में दिए। बैठक में जिला पंचायत केे मुख्य कार्यपालन अधिकारी अतेन्द्र सिंह गुर्जर सहित, अग्रणी जिला बैंक प्रबंधक तथा संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

कलेक्टर संजय कुमार ने बैठक में एक जिला एक उत्पाद योजना की समीक्षा करते हुए कृृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देेष दिए कि जिले के कृषक जैविक गुड बना रहे है। इस गुड को और बेहतर तरीके से बना सकें इसके लिए गन्ना अनुसंधान केन्द्र एवं कृषि विज्ञान केन्द्र के माध्यम से किसानों को प्रषिक्षण प्रदाय किया जावे। जिससे जिले के गुड उत्पादकों को बेहतर मार्केट मिल सके। उन्होंने राज्य शासन की मंषा के अनुरूप नगरीय क्षेत्रों मंे संचालित होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की तैयारियों की समीक्षा करते हुए परियोजना अधिकारी जिला शहरी विकास अभिकरण को निर्देष दिए कि जिले के सभी नगरीय क्षेत्रों में स्वच्छता सर्वेक्षण का कार्य पूरे मापदंड़ो के अनुरूप हो। कलेक्टर ने चार जनवरी को आयोजित होने वाले कलेक्टर एवं कमिष्नर कांन्फ्रेस की विभागवार जिले में की तैयारियों की समीक्षा भी की।

कलेक्टर संजय कुमार ने बैठक में रोजगार मूलक योजनाओं, मनरेगा, स्वसहायता समूहों के आर्थिक सषक्तिकरण के लिए बैंक लिंकेज, प्रधानमंत्री शहरी पथ स्वनिधि योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना, लोक सम्पतियों का प्रभावी प्रबंधन की भी समीक्षा की। उन्होंने जिले मंे गैषालाओं एवं प्रबंधन, अवैध उत्खनन, परिवहन एवं भण्ड़ारण की रोकथाम, जिले में कानून व्यवस्था स्थिति की समीक्षा की। संजय कुमार ने समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, खरीफ 2020-21 मंे उपार्जन की समीक्षा, भण्ड़ारण की व्यवस्था पर भी चर्चा की। उन्होंने मिलावट से मुक्ति अभियान, मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना, नवीन पात्रता पर्ची धारी हितग्राहियों को खाद्यान वितरण, अन्न उत्सव, आत्म निर्भर मध्यप्रदेष का निर्माण, आयुष्मान भारत कार्यक्रम, मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान, भू-माफियाओं के विरूद्ध कार्यवाही की भी समीक्षा।