सोनी सब ने आने वाले नये साल 2021 के लिये एक सेहतमंद और खुशहाल साल की शुभकामनाएं दीं

मुम्बई.Desk/ @www.rubarunews.com- भारत के प्रमुख हिन्‍दी जनरल एंटरटेनमेन्ट2 चैनलों में से एक सोनी सब ने हमेशा ही दर्शकों को खुश रहने के लिये प्रेरित किया है। उन्होंहने अपने खासतौर से तैयार किये गये हल्केल-फुलके, पॉजिटिव कंटेंट के साथ यह प्रयास किया है। अपने ब्रांड की सोच और विश्वा‍स को आगे बढ़ाते हुए, सोनी सब ने 2020 को उम्मीटदों और अच्छी् सेहत के संदेश के साथ विदाई दी है। डॉ. अंजलि छाबरिया, एमडी मनोचिकित्सक द्वारा दिये गये इस संदेश में यह बताया गया है कि क्योंी हर किसी को 2021 में खुश रहने का संकल्पब लेने की जरूरत है।

इस नये ब्रांड वीडियो में दर्शकों को नए साल में प्रवेश के साथ अपनी सेहत पर दोबारा ध्या न देने के लिये कहा गया है। आगे इस बात को प्रमुखता से बताया गया है कि किस तरह पॉजिटिव कंटेंट सकारात्मेक सोच को प्रेरित करने वाले माध्यसम के रूप में काम करता है। इससे तनाव को कम करने में मदद मिलती है, इम्युेनिटी के साथ-साथ मानसिक सेहत को बेहतर बनाने में भी यह मदद करता है। वीडियो का लिंक यहां दिया गया है- https://www.youtube.com/watch?v=6jnMjZpon54

अपने नये-नये कार्यक्रमों और मूल्यों4 से प्रेरित हल्केम-फुलके कंटेंट के साथ यह चैनल परिवार के साथ बैठकर टीवी देखने का अनुभव देने के लिये समर्पित है, जिससे उनके दर्शकों को एक सेहतमंद और खुशहाल जिंदगी जीने का मौका मिल रहा है। उन कार्यक्रमों में पारिवारिक कॉमेडी से लेकर फैंटेसी फिक्शसन और मार्गदर्शन करने वाले कॉन्सेलप्ट्सव शामिल हैं।

एक अकल्पकनीय साल में, टेलीविजन ने परिवारों को करीब आने का मौका दिया। लॉकडाउन के दौरान टेलीविजन देखने वालों की संख्याम 40 प्रतिशत बढ़ गयी (बीसीजी-सीआईआई रिपोर्ट)। लिविंग रूम ब्रांड माने जाने वाले सोनी सब ने 2020 में काफी अनूठे और बेहतरीन शोज़ लॉन्चग किये। ‘तेरा यार हूं मैं’ में पिता-बेटे के रिश्तेव को दर्शाया गया है, भारतीय परिवार के वास्त विक चित्रण की वजह से इसे काफी लोकप्रियता मिली, वहीं ‘काटेलाल एंड संस’ दो ऐसी लड़कियों की कहानी है, जो दूसरे जेंडर की भूमिका निभा रही हैं। दर्शकों को ये शोज़ अभी भी पसंद आ रहे हैं। अभी हाल ही में आई साइंस-फिक्शवन कहानी ‘हीरो गायब मोड ऑन’ एक लड़के की कहानी है। उसे बुरी ताकतों से लड़ने के लिये एक अद्भुत शक्ति मिल जाती है और इसकी नई तरह की कहानी और शानदार विजुअल्स की वजह से दर्शकों ने इसे हाथोंहाथ लिया। अब यह चैनल ‘वागले की दुनिया’ लॉन्चु करने की तैयारी कर रहा है। यह आज के दौर के मध्येमवर्गीय परिवार की इच्छााओं की कहानी है। इस कहानी में लीप लिया गया है और यह आज की पृष्ठयभूमि में नई पीढ़ी के साथ वागले और उसके परिवार पर बनी है।

टिप्परणी:
नीरज व्यालस, बिजनेस हेड, सोनी सब का कहना है
‘’सोनी सब में हम ऐसे शोज़ तैयार करते हैं जो केवल मनोरंजन ही नहीं करते, बल्कि लोगों को खुशियां भी देते हैं। 2020 ने यदि हमें कुछ सिखाया है तो वह है, आशावादी, खुशमिजाज और सेहतमंद बने रहने का मंत्र। चूंकि, हम नये साल में प्रवेश कर रहे हैं तो हमें कुछ ऐसा चाहिये जिससे हम तनावमुक्तं हो पायें। साथ ही अपनी सेहत और तंदुरुस्ती पर फिर से ध्यावन दें। डॉ. अंजलि छाबरिया के साथ जुड़कर हमें बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है। उन्होंमने भी यह माना है कि अच्छी‍ और सकारात्महक सोच में ही बेहतर सेहत, मस्तिष्कत और शरीर का राज छुपा है। हम अपने कंटेंट के माध्याम से अपने दर्शकों को इसी तरह परिवार के साथ रिश्तोंत को मजबूत बनाने, परिवार के करीब आने, उनके साथ हंसने का मौका देते रहेंगे। सरल शब्दों। में कहा जाये तो खुशियां बिखेरने का मौका यूं ही देते रहेंगे।‘’

डॉ. अंजलि छाबरिया, एमडी साइकैट्रिस्ट , का कहना है
‘’ऐसे समय में जब हम चारों ओर नकारात्मीकता और अत्यंेत तनाव से घिरे हुए हैं, खुश रहने से काफी मदद मिल सकती है। खुशी तनाव के एंटीडॉट की तरह काम करती है और कई बार हमें खुश रहने के लिये किसी प्रेरक की जरूरत होती है। मजेदार कहानी का आनंद लेते हुए, दिल खोलकर हंसने, अपनों के साथ वक्तु बिताने से किसी को भी खुश रहने में मदद मिल सकती है। और कई सारे अध्यखयनों में भी यह बात बार-बार साबित हुई है कि खुश रहने वाले लोग सेहतमंद भी होते हैं। खुशी और सेहत साथ-साथ चलती है। और जबकि हम नये साल में प्रवेश कर रहे हैं तो हमें इसकी जरूरत है। खुशहाली और सेहत से भरपूर एक भविष्यम आगे हमें बीते मुश्किल साल से उबरने में मदद करेगा।‘’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.