सिपाही ने न्याय के लिए खटखटाया पुलिस अधीक्षक का दरवाजा

दतिया @rubarunews.com>>>>>>>  पुलिस अधीक्षक अमनसिंह राठौड़ को आज आरक्षक 762 बलवीर बहादुर कमलवंशी ने आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। आवेदन में आरक्षक ने बताया कि उनके पुत्र हंसराज कमल को कोतवाली पुलिस के मुकेश यानी यादव की हत्या के मामले में आरोपी बना दिया गया है जबकि उसके बेटे हंसराज का इस हत्याकांड से कोई लेनादेना नहीं है।

 

हंसराज पेशे से वकील है एवं वह अपने छोटे भाई जवाहर कमल को हत्या में फरियादी है। जवाहर की हत्या 17 दिसम्बर 2019 को हुई थी तब से आरक्षक का परिवार दहशत में है एवं अपना मकान राजगढ़ फाटक का छोडकर बख्सी हनुमान मंदिर के पास रह रहा है।

 

आरक्षक ने बताया कि उसका बड़ा बेटा हंसराज को राजीनामा करने के लिए धमकाया जा रहा है, एवं जवाहर की हत्या के केस को कमजोर करने के मकसद से ही हंसराज को मुकेश रानी की हत्या में फंसाया जा रहा है जबकि वह घटना वाले दिन 17 नवंबर को अन्नपूर्णा होटल में नही था।

 

आरक्षक ने एसपी से गुहार लगाई की होटल के पास की सीसीटीव्ही कैमरे की जांच कर इसके बेटे हंसराज पर लगाया गया हत्या का मामला खत्म किया जाए। मृतक मुकेश रानी यादव के परिजन ओर उसके बेटे जवाहर के हत्यारे एक ही जाती के है। इसलिए उसके परिवार के खिलाफ साजिश की गईं है।