उमंग संस्थान की रोग प्रतिरोधक क्षमता पर लाइव परिचर्चा में आयुष चिकित्सक ने दी उपयोगी जानकारी..

बून्दी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-  आज उमंग संस्थान द्वारा पोस्ट कोविड फ़ोलोअप तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता पर लाइव परिचर्चा आयोजित की गई, जिसमे वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्सक एवं प्रभारी अधिकारी, जिला आयुर्वेद चिकित्सालय डाॅ.सुनील कुशवाह मुख्य वक्ता के रुप में मौजुद रहे।

 

इस अवसर पर डाॅ.सुनील कुशवाह ने पोस्ट कोविड एडवाइजरी सहित पोस्ट कोविड फोलोअप, आयुश क्वाथ, दैनिक दिनचर्या, योग प्राणायाम का रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने मे महत्व, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के सामान्य उपायों की जानकारी प्रदान की।
डाॅ.सुनील कुशवाह ने कहा कि आयुर्वेद में प्रारम्भ से ही रोग प्रतिरोधक क्षमता पर विशेष ध्यान दिया गया है और यही प्रतिरोधक क्षमता और उपाय कोरोना में लाभकारी सिद्ध हुए।
च्यवनप्राश, दुध हल्दी, अश्वगन्धा, मुलहटी, गिलोय, आवँला के महत्व पर प्रकाश डालते हुए फ़ीजिकल डिस्टेन्स, मास्क के प्रयोग और बार बार हाथ धोने को आदत बनाने की बात कही। डॉ. कुशवाह ने आयुश क्वाथ को घर पर बनाने की सामग्री और विधि भी बताई। इन्होंने विभिन्न शोधकार्यों का सन्दर्भ देते हुए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने मे आयुर्वेद को महत्वपूर्ण और लाभकारी बताया।

डॉ.कुशवाह की दी गई सलाह पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी लगाई थी मुहर…..
भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के डायरेक्टर जनरल ऑफ हैल्थ ने 13 सितंबर को कोरोना संक्रमण काल में पोस्ट कोविड फोलो आप (कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके लोग) के लिए कुछ सामान्य एडवाइजरी जारी की है, इसके अलावा च्यवनप्राश,आयुष क्वाथ, अश्वगंधा, मुलैठी, आंवला,
गिलोय, हल्दी वाला दूध,हल्दी नमक के गरारे करें आदि आयुर्वेद चिकित्सक की सलाह से आयुर्वेद औषधियां लेने को कहा।
बूंदी जिला आयुर्वेदिक अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ सुनील कुशवाह ने भी 1 माह पूर्व शहर के कोरोना से उभर चुके मरिजों को इन्हीं 7 चीजों के सेवन की सलाह दी थी। जिस पर आज भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के डायरेक्टर जनरल ऑफ हेल्थ ने भी मुहर लगाई है तथा इन सब चीजों को लेने के लिए गाइडलाइन जारी की। डॉक्टर कुशवाह ने पोस्ट कोविड मरीजों के लिए इन 7 चीजों का सेवन करने की सलाह देने हेतु आयुष मंत्रालय एवं भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय को भी ट्वीट किया था।