अंधे कत्ल का पर्दाफाश, हत्यारोपी 10 हजार रुपये का इनामी गिरफ्तार

भिण्ड.Desk/@www.rubarunews.com>>आरोपी ने पुलिस को बताया वह मजदूरी का काम  करता है और मृतक गोरे के यहां मजदूरी की थी कुछ पैसे आरोपी ने गोरे सिंह से उधार लिये थे मृतक के साथ उसका उठना बैठना हो गया था, जिसके बाद आरोपी के घर मृतक का आना जाना होने लगा, मृतक का आरोपी की पत्नी से अवैध संबंध थे, यह घटना उसने स्वयं अपने घर पर देखी। एक दिन आरोपी ने अपनी पत्नी व गोरे यादव को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था जिसके बाद उसके सर पर जुनून सवार हो गया और तभी से वह गोरे यादव के प्रति नफरत करने लगा और 23 दिसम्बर 2019 को गोरे सिंह उसे बुलाने आया था और आरोपी पवन यादव की दुकान से टीवी लेकर उनके ट्यूबेल पर पहुंचा, इसी दौरान दोनो ने मिलकर शराब पी जैसे ही गोरे को नशा हुआ तो गोरे खटिया पर लेट गया, इसी दौरान आरोपी ने उसके सिर पर लोहे की रॉड से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया और आरोपी को पकडने के लिए पुलिस ने 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था, जो पुलिस के हाथ लग गया।  इसके साथ ही मालनपुर निवासी ज्वैलर्स ने मृतक की चेन खरीदी तो पुलिस ने उस पर मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। यह बात पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक रूडोल्फ अल्बारेस ने पत्रकारों से कही। इस प्रेसवार्ता के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजीव कंचन, ऊमरी थाना प्रभारी रविन्द्र गुर्जर मौजूद रहे।

इस तरह घटित हुई थी वारदात

ज्ञात हो कि फरियादी महेश सिंह पुत्र नाथू सिंह यादव उम्र 48 साल निवासी ग्राम मोतीपुरा थाना ऊमरी ने रिपोर्ट की थी कि दिनांक 23 दिसम्बर 2019 को मेरे चाचा पदम सिहं उर्फ गोरे पुत्र सूरजपाल सिंह यादव पुरानी टीवी लेने भिण्ड गये थे भिण्ड से टीवी आटो में रख दी थी जिसे ऊमरी में पवन यादव की दुकान पर रख दी थी और किसी व्यक्ति को बुलाकर उसके साथ टीवी अपनी मोटर सायकिल से ट्यूबेल पर लाये थे। सुबह 8 बजे देखा तो ट्यूबेल के कमरे का गेट खुला था अंदर चारपाई पर मेरे चाचा मृत अवस्था में पडे थे किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा उनके सिर मुंह, नाक , आंख में किसी हथियार से चोट पहुंचाकर उनकी हत्या कर दी थी। उक्त रिपोर्ट पर थाना ऊमरी पर अज्ञात आऱोपी के विरुद्ध धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान ऊमरी पुलिस ने संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ करने एवं सीसीटीव्ही फुटेज खंगालने शुरू कर दिये। पुलिस अधीक्षक ने आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था।

मृतक के साथ टीवी ले जाने पर हुआ शक

पुलिस को मृतक के साथ टीवी ले जाने वाले पर शक हो गया आखिरकार पुलिस मृतक के साथ टीवी ले जाने वाले के पास पहुंच गई और उससे पूछताछ की तो आरोपी अशगर खान पुत्र तुल्लन खान निवासी ऊमरी ने जुर्म करना स्वीकार कर लिया। दोनों ने सबसे पहले ट्यूबेल पर शराब का सेवन किया, जिसके बाद लोहे की रॉड से वारदात कां अंजाम दिया और फरार हो गया, तभी से पुलिस को आरोपी की तलाश थी जो मुखबिर की सूचना पर दबोच लिया गया।

अवैध संबंध के शक पर दिया वारदात को अंजाम

एक दिन आरोपी ने अपनी पत्नी व गोरे यादव को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था जिसके बाद उसके सर पर जुनून सवार हो गया और तभी से वह गोरे यादव के प्रति नफरत करने लगा और रात्रि के समय उसके ट्यूबेल पर पहुंचने के बाद दोनों ने शराब का सेवन किया और जिसके बाद मृतक नशे में हो गया तभी वारदात को अंजाम दिया।

आरोपी ने मृतक के गले से लूटी सोने की चैन

वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी अशगर ने मृतक के गले की सोने की चैन, आधार कार्ड, नगदी 560 रुपये घटना वक्त लूटकर भाग निकला और सोने की चैन को मालनपुर में अंकित ज्वैलर्स प्रोपाइटर महेश पुत्र रामगोपाल सोनी उम्र 45 साल निवासी मालनपुर को बैच दी। पुलिस ने दोनों पर अपराध दर्ज कर लिया और गिरफ्तार करने के बाद न्यायालय में पेश किया और जेल भेज दिया।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com