सहयोग एवं उपहार योजना अब बनी ‘मुख्यमंत्री कन्यादान योजना‘

बूंदी.KrishnaKantrathore/ @www.rubarunews.com>> सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही है, जिसमें महत्वपूर्ण योजना सहयोग एवं उपहार योजना है जिसे अब मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के नाम से जाना जाएगा।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक जे.पी. जावरियां ने बताया कि यह योजना ऐसे परिवार जो बीपीएल श्रेणी, अंत्योदय श्रेणी, आस्था कार्ड धारी, परिवार की कन्याओं विधवाओं की पुत्री एवं अनाथ बालिका, पालहार से लाभान्वित बालिका, महिला खिलाड़ियों के स्वयं के विवाह पर, विशेष योग्यजन व्यक्तियों को एवं 18 वर्ष से अधिक कन्याओं आयकर दाता नहीं हो के विवाह पर बालिका को 20 हजार रूपए अनुदान, जो बालिका दसवीं क्लास पास है उसे 30 हजार रूपए और जो बालिका स्नातक है उसे 40हजार रूपय दिए जाने का प्रावधान है।
उन्होंने बताया कि आवेदन ई-मित्र के माध्यम से ऑनलाइन किया जा सकता है इसमें लगने वाले दस्तावेजो में आवेदक का मूल निवास, जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, बीपीएल प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, विवाह प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक, शपथ पत्र, विधवा होने पर पति की मृत्यु प्रमाण पत्र, पेंशन पीपीओ, वर वधू का जन्म प्रमाण पत्र, आठवीं, दसवीं एवं स्नातक की मार्कशीट संलग्न करनी होगी। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में 142 व्यक्तियों को 44.20 लाख एवं 2020-21 में 72 को लाभान्वित कर 24.70 लाख का व्यय वित्तीय वर्ष में किया गया है।