भीड़ में जाने की ऐसी भी क्या मजूबरी, कोरोना से जीवन को बचाना है जरूरी‘

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com>> राज्य सरकार के निर्देशानुसार चलाए जा रहे कोविड-19 जागरुकता अभियान के द्वितीय चरण में कोरोना से बचाव के उपायों की जानकारी देने वाले पोस्टर, पम्फलेट गांव-गांव शहर-शहर पहुंच रहे हैं। इनके माध्यम से आमजन कोे कोरोना से बचने की हिदायत दी जा रही है।
जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता के निर्देशन में जिले में आंरभ हुए द्वितीय चरण में जागरुकता संदेशों युक्त सामाग्री ग्राम पंचायत एवं शहरी क्षेत्रों के वार्डों तक पहुंचाई जा रही हैं। विभिन्न सरकारी कार्यालयों व संस्थानों एवं संबंधित परिसरों, दृश्य स्थलों पर यह सामाग्री चस्पा की जा रही है ताकि आमजन इनसे जानकारी प्राप्त करके कोरोना से बचाव के उपाय अपना सकें। इन पोस्टर्स, पम्फलेट के माध्यम से संदेश दिए जा रहे हैं ‘एक ही गलती पड़ेगी भारी, कोरोना है घातक बीमारी।‘ , इससे पहले कि जान पर बन आए, कोरोना से बचाव के उपाय अपनाएं।‘ ‘भीड़ में जाने की ऐसी भी क्या मजूबरी, कोरोना से जीवन को बचाना है जरूरी‘ संदेश के माध्यम से कोरोना से बचाव के लिए भीड़ में जाने से आगाह किया गया है। इसके अलावा बार-बार हाथ धोने, बिना मास्क बाहर नहीं जाने, हाथ नहीं मिलाने आदि के प्रति भी चेताया गया है।
धार्मिक स्थल संचालकों को दी जागरुकता संदेशयुक्त सामग्री
धार्मिक स्थलों के संबंध में हुई बैठक में विभिन्न धार्मिक संप्रदायों के प्रतिनिधियों को कोविड-19 जागरुकता अभियान के संबंध में जागरुकता संदेशों वाले पोस्टर व पम्फलेट सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रदान किए गए।
प्रदर्शनी जारी
जागरुकता अभियान के अंतर्गत आर्ट गैलरी में लगी प्रदर्शनी जारी है। इसमें कोरोना से बचाव के उपाय चित्रों के माध्यम से बताए गए हैं।