बालिका एवं महिला उत्थान एवं उनका सर्वांगीण विकास आज के युग की आवश्यकता ही नहीं जिम्मेदारी भी है

नैनवा Krishna Kant Rathore/@www.rubarunews.com>>राजस्थान सरकार द्वारा संचालित किशोरियों के लिए योजना-स्कीम फॉर एडॉप्शन गर्ल्स अंतर्गत शनिवार को ब्लॉक नैनवा में ग्राम साथिन संभागियों की क्षमता वर्धन एवं प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन सभागार, पंडित मदन मोहन मालवीय माध्यमिक विद्यालय नैनवा में किया गया।

कार्यशाला में विशिष्ट अतिथि बृजमोहन शर्मा संरक्षक, पंडित मदन मोहन मालवीय विद्यालय एवं मुख्य अतिथि भेरु प्रकाश नागर सहायक निदेशक महिला अधिकारिता रहे। कार्यशाला की अध्यक्षता अरविंद शर्मा द्वारा की गई।

सर्वेश तिवारी डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर फ्री बीइंग मी ने मुख्य वक्ता के तौर पर कार्यशाला को संबोधित करते हुए बालिकाओं के चहुमुखी विकास को देश के लिए आज के युग के लिए समाज के लिए अति महत्वपूर्ण बताया। आज की बालिकाएं कल का उज्जवल भविष्य है इनका सामाजिक मानसिक शारीरिक बौद्धिक आदि चहुमुखी विकास देश के विकास हेतु अनिवार्य है। आज की बालिका इतनी समर्थ और समृद्ध होगी कल हमारा समाज एवं समाज के सभी जन समर्थ एवं समृद्ध बनेंगे। कहा जाता है कि एक बेटी पड़े पड़ेगी तो साथ पीढी तरेगी। अतः इनके विकास में ही देश का मूल विकास छुपा हुआ है।अभियान के संदर्भ में संभागियों को प्रायोगिक प्रशिक्षण सत्र द्वारा तिवारी ने ऐसी किशोरी बालिकाओं को प्रोत्साहन के साथ शैक्षणिक विकास व सशक्तिकरण मनोबल जागृत करने की विधियों का परिचय करवाया। साथिनों को संबोंधित करते हुए उन्हें स्वसक्षम बनकर किशोर बालिकाओं के आत्मविकास,शैक्षणिक,शारीरिक,मानसिक व बौद्धिक विकास हेतु उन्हें समुचित मंच व अवसर प्रदान करें।

कार्यशाला संयोजक भैरु प्रकाश नागर सहायक निदेशक महिला अधिकारिता बून्दी ने अपने संबोन्धन में साथिनों का आव्हान किया कि वे किशोरी बालिकाओं को प्रोत्साहित कर उन्हें शैक्षणिक विकास व विभागीय कार्यक्रमो से जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें। नागर ने प्रतिभागियों को विभाग की योजनाओं एवं इसके सफल क्रियान्वयन साथिनो की भूमिका के बारे में प्रकाश डाला उन्होंने संभागियों को संबोंधित करते हुए कहा कि साथिनो का दायित्व विभाग में सबसे महत्वपूर्ण है किसी भी योजना के सफल क्रियान्वयन में साथियों की महती भूमिका रहती है अतः अपने अपने कार्य क्षेत्र में सभी अपनी भूमिका का निर्वाह कर विभाग की योजनाओं को सफल बनाने में सहयोग दें।

विशिष्ट अतिथि महोदय द्वारा प्रतिभागियों को दिए हुए उद्बोधन में उन्होंने बताया कि बालिका शिक्षा बहुत महत्वपूर्ण है और देश के प्रत्येक नागरिक का यह कर्तव्य है कि वह अपने संपर्क में आने वाली प्रत्येक बालिका को शिक्षा से जोड़ें।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com