बालिकाओं एवं महिलाओं के विकास के बिना व्यक्ति, परिवार और समाज के विकास की कल्पना भी नही – अशफाक गौरी

बून्दी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-  अन्तरराष्ट्रीय बालिका दिवस कार्यक्रमों की श्रृंखला में आज उमंग संस्थान द्वारा रा.उ.मा.वि. बरून्धन मे विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
उमंग की ज्ञानार्थ संयोजिका और मीना मंच की प्रभारी शोभा कंवर ने बताया कि अन्तरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर प्रधानाचार्य अशफाक गौरी की अध्यक्षता में ”हमारी आवाज, हमारा समान भविष्य“ विषय पर परिचर्चा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मीना मंच की बालिकाओं ने रंगोली मेकिंग, पोस्टर मेकिंग सहित नारा लेखन गतिविधियों का आयोजन किया गया। प्रधानाचार्य अशफाक गौरी ने बालिका सुरक्षा, सशक्तिकरण में सहयोग करने और नो मास्क नो एंट्री की जागरूकता की शपथ भी दिलवाई।
प्रधानाचार्य अशफाक गौरी ने किसी भी राष्ट्र और समाज के विकास का सीधा सम्बन्ध वहाँ की बालिकाओं एवं महिलाओं के विकास से जुड़ा होता हैं, बालिकाओं एवं महिलाओं के विकास के बिना व्यक्ति, परिवार और समाज के विकास की कल्पना भी नही की जा सकती है।
परिचर्चा में बोलते हुए गौरी ने सक्षम, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम, सुकन्या समृद्धि योजना, किशोरियों के सशक्तिकरण के लिए राजीव गांधी योजना (सबला), इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना, कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय योजना,प्रधानमन्त्री उज्ज्वला योजना, महिलाओं के लिए प्रशिक्षण और रोजगार कार्यक्रम सहित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बारें मे जानकारी दी। इस अवसर पर शीला गुप्ता, हंसा कलवार, राजू मीना मंच की भावना, रश्मिका और सूर्यप्रकाश ने भी अपने विचार रखें।
संस्थान के कृष्ण कान्त राठौर ने बताया कि इस अवसर पर विद्यालय में जिला प्रशासन, महिला अधिकारिता विभाग और उमंग संस्थान द्वारा स्थापित “उमंग सेवगल्र्स वाॅल“ पर आकर्षक सज्जा करते हुए रंगोलियाँ भी बनाई। बालक-बालिकाओं ने रंगों के द्वारा बालिका सशक्तिकरण, बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओं पर अपने विचारों को अभिव्यक्त किया। बालक बालिकाओं ने रंगों के द्वारा पत्थरों पर आकर्षक चित्रकारी द्वारा नारा लेखन भी किया। यहाँ पर रेखा रानी, गुरप्रकाश कौर सहित हंसिका, दीपिका, किरण, संगीता, निकिता, प्रिया प्रजापत, अनिरूद्ध और राजू मीना मंच के सदस्य उपस्थित रहे।