राजस्थान के सवाई माधौपुर में फसें 235 मजदूरो की हुई घर वापसी

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>> मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चैहान की पहल पर नोबल कोरोना वायरस कोविड-19 के अंतर्गत देश में लगे लाॅकडाउन के दौरान मुख्यमंत्री जी की राजस्थान सरकार से हुई चर्चा के बाद श्योपुर जिले के जो 235 मजदूर सवाई माधौपुर मे अपने घर जाने की वाट की प्रतिक्षा कर रहे थे। इन सभी मजदूरो को राजस्थान के सवाई माधौपुर प्रशासनिक अधिकारियो टीम द्वार बसो से श्योपुर के बाॅर्डर स्थित सामरसा चैकी पर लाया गया। जहां पर मेडिकल टीम द्वारा चैकअप एवं स्क्रीनिंग करने के उपरांत उनकी घर वापसी के इंतजाम किये गये। साथ ही उनको अपने क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में कोरेनटाईन करने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई।
कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल द्वारा नोबल कोरोना वायरस कोविड-19 के मद्देनजर लाॅकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंिसग की प्रक्रिया अपनाई जाकर मास्क लगाकर सवाई माधौपुर से श्योपुर लाने के लिए अथक प्रयास किये। साथ ही एसडीएम श्री रूपेश उपाध्याय, प्रभारी तहसीलदार कु. रजनी बघेल, नायब तहसीलदार श्री राघवेन्द्र कुशवाह सहित अन्य अधिकारियों की टीम राजस्थान के सवाई माधौपुर गत संध्याबेला में भेजी गई। इस प्रशासनिक अधिकारियों की टीम द्वारा 235 मजदूरो को बसो के माध्यम से राजस्थान के बाॅर्डर श्योपुर की सीमा पर स्थित सामरसा चैकी पर मेडिकल टीम द्वारा स्क्रीनिंग एवं मेडिकल जांच कराने के बाद सभी मजदूरो को उनकी पंचायत स्तर पर कोरेनटाईन सेंटर में भेजने की व्यवस्था को अंजाम दिया गया।
एसडीएम श्री रूपेश उपाध्याय ने बताया कि प्रदेश सरकार गरीबो के हित में निरंतर काम कर रही है। प्रदेश के संवदेनशील मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिहं चैहान को खबर मिली थी कि श्योपुर जिले के मजदूर राजस्थान के सवाई माधौपुर में चैट काटने के लिए मजदूरी पर गये हुये थे। नोबल कोरोना वायरस कोविड-19 के अंतर्गत लाॅकडाउन होने के कारण मजदूरो की अपने घर वापसी नही हो पाई। मजदूरो के हितो के देखते हुए कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल ने राज्य सरकार के निर्देशो पर तत्काल अमल करते हुए सभी 235 मजदूरों की घर वापसी कराई।
राजस्थान के सवाई माधौपुर से श्योपुर घर वापसी के लिए आये श्योपुर तहसील के मजदूर जैदा निवासी राकेश पुत्र श्री भोला आदिवासी एवं रामराज पुत्र श्री सूरजमल, ग्राम दाॅतरदाखुर्द के निवासी बादल पुत्र श्री जगन्नाथ आदिवासी, श्योपुर नगर के निवासी सुग्रीव पुत्र श्री लक्ष्मण एवं आदिवासी विकासखण्ड करालह के ग्राम रानीपुरा के साहब सिहं पुत्र श्री बाबू सिहं आदिवासी, ग्राम ढेगदा की निवासी श्रीमती रानी पत्नि श्री धनश्याम आदिवासी, पहेला के निवासी पूरण पुत्र श्री सूरजमल बडौदा तहसील के मकडावदा निवासी वीरू पुत्र श्री पृथ्वीलाल, रतोदन के निवासी धनराज पुत्र श्री तुलसीराम, विजयपुर तहसील के ग्राम ओछापुरा निवासी केदार पुत्र श्री रामहेत जाटव ने बताया कि हम लाॅकडाउन से पहले राजस्थान में चैट काटने के लिए गये थे। देश, प्रदेश और जिले में लाॅकडाउन के दौरान सीमाएं शील्ड होने से हमारी घर वापसी नही हुई थी। हम सभी की घर वापसी के प्रति प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिहं चैहान के आभारी है। जिनके द्वारा हम परिवार मे सकुशल बस के माध्यम से पहुंच गये है। इसलिए हम शासन, प्रशासन को बधाई देते है।