आवासीय और व्यवसायिक उपयोग के लिए विकसित होगी सिंचाई विभाग की जमीन

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> शहर के विकास को पंख लगना शुरू हो गए हैं। भिंड विधायक संजीव सिंह संजू के प्रयासों से शहर के बीचों-बीच स्थित सिंचाई विभाग कालोनी की 9.6 हेक्टेयर जमीन को सरकार ने रिडेंसीफिकेशन (पुन : सघनीकरण) के लिए पहले ही स्वीकृत कर दिया था। अब इस जमीन को विकसित करने के लिए कंसल्टेंट एजेंसी को नियुक्त किया गया है। विधायक ने बुधवार को एजेंसी के डायरेक्टर डीके शर्मा के साथ मुआयना किया है। अब इस जमीन को 70 करोड़ रुपए की लागत से आवासीय और व्यवसायिक उपयोग के लिए विकसित किया जाएगा। विधायक संजीव सिंह संजू ने बताया कि भिंड शहर के विकास को आगे बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सिंचाई विभाग कालोनी की 9.6 हेक्टेयर जमीन का रिडेंसीफिकेशन का प्रस्ताव दिया था। इस प्रस्ताव को संवेदनशील मुख्यमंत्री ने स्वीकृत करा दिया है। अब यहां रिडेंसीफिकेशन के लिए सरकार की ओर से गाजियाबाद की द्ष्टि इंजीनियर्स एलएलपी को नियुक्त किया गया है। यह एजेंसी इस पूरी भूमि का सर्वे कर यहां आवासीय, व्यवसायिक विकास का खाका तैयार करेगी। डीपीआर तैयार कर सरकार की ओर भेजी जाएगी। वहां से डीपीआर पर हरी झंडी होते ही टेंडर प्रक्रिया पूरी की जाएगी। इसके साथ ही भिंड में विकास का नया अध्याय शुरू हो जाएगा।

कलेक्टर-एसपी के बंगले, कर्मचारियों के आवास

विधायक संजीव सिंह संजू ने बताया कि रिडेंसीफिकेशन के जरिए सिंचाई विभाग कालोनी की जमीन को प्रमोटर के जरिए करीब 70 करोड़ रुपए की लागत से विकसित किया जाएगा। विधायक ने बताया कि इसमें कलेक्टर-एसपी के बंगले, सिंचाई विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए पांच श्रेणी के आवास को विकसित किया जाएगा। कालोनी में रहने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को जर्जर आवास से मुक्ति मिलेगी।